सेक्सी माया आंटी की चुदाई कहानी भाग १


Click to Download this video!
loading...

परिचय –  माया आंटी 40 साल की शादी शुदा औरत है, माया का फिगर बहुत सेक्सी है – बड़े स्तन, पतली कमर और मोटी चूतड़। माया बहुत प्यारी और भोली है, माया के पति का नाम राजेश है, राजेश एक सरकारी नौकरी करते है राजेश की उम्र 44 है। राजेश और माया दोनों उत्तरप्रदेश के एक छोटे से शहर में रहते है, दोनों की एक बेटी है जिसका नाम कविता है, कविता 18 साल की है, कविता बिल्कुल अपनी माँ जैसी खूबसूरत और सेक्सी है। माया की अपनी पड़ोसियों से बहुत अच्छी बनती है, माया का आना जाना सभी के घर होता रहता है और सभी माया को बहोत प्यार करते है।

कहानी की शुरुआत –  माया की बेटी 12th की पढाई कर रही है उसकी परीक्षा खत्म हुई और वो अपने नाना – नानी के घर छुट्टिया मनाने गयी है।
घर पर माया और उनके पति राजेश है राजेश सुबह काम पर 10 बजे चले जाते है और माया दूसरी औरतों की तरह घर पर अपने काम में लगी होती है। माया के घर की डोर बेल बजती है माया दरवाजा खोलती है, दरवाजे पर पड़ोस की सरला आयी हुई है सरला माया की बहुत अच्छी सहेली है। माया सरला को अंदर बुलाती है और बैठने के लिए बोलती है।

loading...

माया – सरला और बताओ कैसे आना हुआ ?
सरला – माया मेरी माँ की तबियत ख़राब है और मुझे अपनी पति से साथ अचानक जाना पड़ रहा है आने जाने में 3-4 दिन लग जायँगे।
माया – सरला तुम जाओ यहाँ की फ़िक्र मत करो।
सरला – लेकिन माया मेरे बेटे विक्की की कॉलेज की परीक्षा चल रही है, मैं अकेले मायका जा नहीं पाऊँगी और विक्की को हम लोग यहाँ अकेला छोड़ नहीं सकते।
माया – ठीक है सरला तुम विक्की को हमारे यहाँ छोड़ दो। कुछ दिन की बात है हम लोग उसका ख्याल रख लेंगे।
सरला – हा माया मैं भी यही सोच कर तुमसे बात करने आयी थी, मेरे पति मोहन राजेश से बात कर लिए है राजेश पहले ही तैयार है, मैं तुमसे एक बार पूछना चाहती थी।
माया – ठीक है सरला तुम विक्की को बोल देना वो हमारे यहाँ अपना सामान ले कर आ जायेगा।
सरला – ठीक है माया मैं चलती है, माँ के घर पहुँच कर तुम्हे कॉल करुँगी।

loading...

सरला चली जाती है और माया अपने घर के काम में व्यस्त हो जाती है। 1 घंटे बाद माया के घर की डोर बेल फिर से बजती है। माया दरवाजा खोलती है।

माया – आओ विक्की बेटा
विक्की – हेलो माया आंटी कैसी हो आप ?
माया- मैं ठीक हूँ विक्की बेटा, तुम्हारे एग्जाम कैसे चल रहे है ?
विक्की – एग्जाम अच्छा जा रहा है आंटी जी।
माया- आओ मैं तुम्हे तुम्हारा कमरा दिखा देती हूँ।
विक्की माया के साथ जाता है और अपना सामान कमरे में रख देता है।
माया – विक्की मैं खाना लगा लेती हूँ दोनों साथ में खाते है।
विक्की – ठीक है आंटी मैं हाथ मुँह धो कर आता हूँ, आंटी बाथरूम कहा है ?
माया – बेटा घर में एक ही बाथरूम है आओ मैं दिखा देती हूँ।

विक्की बाथरूम चला जाता है और फ्रेश होने लगता है तभी उसकी नजर निचे पड़ती है।
विक्की – अरे ये क्या है ? लगता है माया आंटी की ब्रा पेंटी है। आज पहले दिन ही खजाना हाथ लग गया। इसे उठा कर देखता हूँ सायद माया आंटी की चूत और चूचियों की खुशबू मिल जाये। उम्मम्मम्म क्या मस्त खुशबू है ब्रा की, पेंटी देखता हूँ – अरे वाह आंटी की पेंटी बड़ी सेक्सी।  bukovsky2008.ru
विक्की माया की ब्रा और पेंटी चूमने और सूंघने लगता है। विक्की 19 साल का जवान और शरारती लड़का है, विक्की मोहल्ले के दूसरे लड़कों की तरह माया का दीवाना है और माया के साथ होने का विक्की को ऐसा पहला सुनहरा अवसर मिला है।

माया – विक्की जल्दी से आओ खाना निकल गया है
विक्की – हा आंटी आ गया, क्या बनाई हो आज खाने में बहोत अच्छी खुशबू आ रही है।
माया – दाल, चावल, बैगन की सब्जी और रायता
विक्की और माया दोनों खाना खाते है उसके बाद माया विक्की को आराम करने को बोल कर किचन में बचा हुआ काम करने लगती है। विक्की अपने कमरे में चला जाता है।

विक्की- आज तो हीरा हाथ लग ही गया माया आंटी की पेंटी में उनकी चूत का एक बाल आज मेर हाथ लग ही गया। इसे सूंघ कर देखता हूँ, उम्मम्मम वाह क्या सुगंध है।

विक्की माया के चूत की एक बाल बड़ी मुस्कील से उसकी पेंटी से खोज कर निकाल लिया है और उसे सूंघ कर मजे ले रहा है, कभी वो उस चूत के बाल को मुँह में लेकर चूसता और कभी अपने लंड के टोपे को खोल कर उसके अंदर डाल लेता। ये सब विक्की के लिए बहोत ही मजेदार था।

माया किचन का काम करके बाथरूम जाती है और वहाँ अपनी ब्रा पेंटी देख कर सोचती है, अरे ये मैं कैसे धोना भूल गयी। माया अपनी ब्रा पेंटी साफ़ कर के सूखा देती है, विक्की अभी भी माया को याद कर के चुदाई के सपने देख रहा है।
माया विक्की के कमरे की तरफ जाती है
माया- विक्की कल तुम्हारा एग्जाम है ना ? कितने बजे जाओगे सुबह
विक्की – आंटी सुबह ८ बजे से एग्जाम है मैं ७ : ३० निकल जाऊंगा कॉलेज के लिए।
माया – ठीक है मैं सुबह जल्दी तुम्हारे लिए नास्ता बना दूंगी, अभी तुम पढ़ाई करो।
माया अपने कमरे में जा कर आराम करने लगती है और विक्की पढाई करने लगता है। राजेश शाम को ७ बजे घर आते है और माया उन्हें फ्रेश होने के लिए बोल कर चाय बनाने लगती है।
राजेश – माया मैं फ्रेश हो गया हूँ चाय ले आओ और विक्की को बुला लो साथ में चाय पीते है, माया विक्की को बुलाती है।
राजेश – विक्की पढाई कैसे चल रही एग्जाम की तैयारी हुई या नहीं ?
विक्की – अंकल जी मेरी तैयारी पूरी है मैंने आज पुरे दोपहर पढाई की है।
राजेश – अच्छा है बेटा खूब मन लगा कर पढाई करो।

चाय नास्ता होने के बाद माया किचन में रात के लिए खाना बनाने लगती है, राजेश अपने कमरे में जा कर अपने ऑफिस का अधूरा काम करने लगते है और विक्की अपने कमरे में चला जाता है।
खाना तैयार होने के बाद रात ९.३० बजे सब खाना खाते है, खाना खाने के बाद माया किचन साफ़ करने लगती है। विक्की अपने कमरे में पढाई करने लगता है और राजेश टीवी देख रहे होते है। टीवी में मूवी की एक सेक्स सीन आती है और राजेश की सोई हुई वासना जाग उठती है, राजेश किचन में जाता है और माया को पीछे से पकड़ कर चूमने लगता है।

माया – क्या कर रहे है आप विक्की देख लेगा छोड़ो ना मुझे।
राजेश – मेरी जान आज मन हो रहा है वैसे भी हमे सेक्स किये १ महीने से ज्याद हो गए है।
माया – ठीक है आप कमरे में जाओ मैं थोड़ी देर में बर्तन साफ़ कर के आती हूँ।
राजेश कमरे में चला जाता है और अलमारी से कंडोम निकल कर माया के आने का इन्तजार करने लगता है, इधर विक्की को राजेश और माया की बात सुनाई पड़ जाती है और वो छुप के चुदाई देखूंगा सोच कर उतावला होने लगता है, माया काम पूरा कर के अपने कमरे में जाती है।

राजेश – माया आओ कब से इन्तजार कर रहा हूँ।
माया – हा रुको मैं देख कर आती हु विक्की सोया की नहीं।
माया विक्की के रूम की तरफ जाती है विक्की लाइट ऑफ कर के सोने का बहाना बना लेता है।
माया अपने कमरे में वापस आती है और दरवाजा बंद कर लेती है।  bukovsky2008.ru
राजेश – जान मैं तुम्हे समय नहीं दे पाता हूँ आज पुरे एक महीने का प्यार एक साथ ही करुगा।
माया – हसते हुए …….. हा जी ठीक है मेरा भी मन कर रहा था लेकिन आप थक कर आते है और जल्दी सोते है। आप २ मिनट रुको मैं कपडे चेंज कर लेती हूँ।
माया साड़ी उतार कर अपनी nighty पहन लेती है, पिंक कलर की जालीदार nighty से माया के ब्लैक ब्रा और पेंटी साफ़ दिखाई देती है। माया बहुत कामुक और किसी अप्सरा जैसे सुन्दर दिख रही है जिसे देख कर राजेश अपने कपडे उतार देता है और अंडरवियर के ऊपर से लंड को पकड़ कर हिलाने लगता है।

राजेश – जान अब आ भी जाओ रुका नहीं जा रहा।
माया – लो जी आ गयी।
राजेश माया को बेड पर लेटा कर माया के ओंठ चूसने लगता है, इधर विक्की उठता है, माया और राजेश के कमरे के अंदर देखने की कोशिस करने लगता है लेकिन उसे देखने की कोई भी जगह नहीं मिलती, विक्की वही चुपचाप खड़ा हो कर आवाज सुनने लगता है।
इधर राजेश माया की ब्रा उतार कर माया के बड़े बड़े बूब्स को दोनों हाथों में लेकर चूसने लगता है, माया उत्तेजित होने लगती है अहह अह्ह्ह अहह ओह्ह्ह्ह उम्मम्मम्म, राजेश माया की पेंटी निकाल कर माया की चूत देखता है।

राजेश – जान तुमने चूत साफ़ नहीं की क्या? बहोत बाल है बड़े बड़े।
माया – हा राजेश मैं इतने दिन से अपने शरीर पर ध्यान ही नहीं दी। कल ही साफ़ करुँगी।
राजेश माया की बालों वाली चुत को फैला कर चाटने लगता है, माया राजेश के सर को पकड़ कर अपनी चूत में दबा लेती है, उम्मम्मम उम्मम्मम अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह।
राजेश – जान मेरा लंड चूस कर गिला कर दो।
माया राजेश का लंड मजे ले कर लॉलीपॉप की तरफ चूसने लगती है थोड़ी देर बाद राजेश माया को डॉगी स्टाइल में आने को बोलता है। माया डॉगी स्टाइल में पीछे गांड उठा कर झुक जाती है। 
माया और राजेश ज्यादा सेक्स नहीं करते इसलिए एक लड़की की माँ होने के बाद भी माया की चूत टाइट और बर्गर की तरह फूली हुई है।
राजेश लंड पर कंडोम चढ़ा कर पीछे से माया की चूत में लंड डालता है और धीरे – धीरे चोदने लगता है।
राजेश – अह्ह्ह अह्ह्ह उम्म्म जान मजा आ रहा है हर बार तुम्हारी चूत कसी हुई होती है कमाल की चूत है मेरी जान।
माया – अह्ह्ह उम्मम्मम्मम्म आउच उईईई। bukovsky2008.ru
राजेश जोर के धक्के लगा कर चोदने लगता है और कमरे में राजेश की टांगे माया की मोटी गांड से टकरा रही होती है जिस से फट फट और चूत में लंड चुदाई से फच फच की आवाज बाहर तक आ रही है। बाहर विक्की खड़ा सुन रहा है और अपना लंड बाहर निकाल कर मुठ मार रहा है।
अंदर कमरे में १० -१२ मिनट की चुदाई के बाद राजेश माया की चूत में झड़ जाता है। राजेश अपने लंड से कंडोम उतार कर माया को फेंकने के लिए देता है, माया कपडे पहन कर कंडोम डस्ट बिन में डाल देती है।
इधर विक्की जल्दी से बाथरूम जा कर माया के नाम की मुट्ठ मारता है और वापस अपने कमरे में आ कर सो जाता है।
आज राजेश जल्दी झड़ गया और वो भूल गया की माया अभी तक झड़ी नहीं है माया की चूत में वासना की आग लगा कर राजेश सो जाता है, माया थोड़ी उदास हो कर सो जाती है। दूसरे दिन सुबह…

कहानी आगे जारी रहेगी…….

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone