सेक्सी आंटी की गांड और चूत चोदी


Click to Download this video!
loading...

हल्लो मस्त बड़ी गांड वाली औरतो और लड़कियों को मेरा सलाम. मेरा नाम वसीम हे और मैं हैदराबाद का हूँ. मेरी एज 29 साल हे और आज मैं अपनी रियल हिंदी सेक्स कहानी आप लोगो के साथ शेयर करने के लिए आया हूँ.

ये मेरे पड़ोस की एक आंटी की कहानी हे जो की कुछ दिनों पहले ही रहने के लिए आई थी. उसके पति अब्रोड में हे और वो अपने बच्चो के साथ रेंट पर रहने लगी. आंटी की उम्र 37 साल की थी और वो दिखने में एकदम गोरी हे. उसकी बड़ी गांड हे जो की पहले से ही मेरी कमजोरी रही हे. आंटी की गांड का साइज़ करीब 40 इंच का होगा और उसके बूब्स भी बडे थे लेकिन वो गांड से छोटे ही थे. आंटी देखने में एकदम भोली और सेक्सी सी हे.

loading...

आंटी को अक्सर मैं छत पर देखता था. मैंने तो पहले से ही उसको पटाने के लिए अपने काम चालू कर दिए थे. लेकिन वो पहले तो मुझे भाव ही नहीं देती थी. मैं स्माइल देता था और उसकी तारीफ़ भी करता था. लेकिन साला बहुत टाइम खा लिया आंटी ने पटने में!

loading...

आंटी के साथ मेल जोल बढ़ने पर पता चला की वो अपने पति के व्यवहार को ले के बड़ी दुखी थी. वो दुबई पैसे कमाने के लिए गया था और दो तिन सालों तक वो इंडिया आता ही नहीं था. उसकी कम्पनी उसे छुट्टी देती थी लेकिन वो टिकट के पैसे ले लेता था छुट्टी पर आने के बदले में. आंटी ने कहा की वो शादी के कुछ ही दिनों में चला गया दुबई और फिर वो 2 साल तक वही रहा. आंटी की पहली बेटी भी शादी के पांच साल के बाद हुई थी. वो दुखी थी और मैं मन ही मन सोच रहा था की वो सच में लंड लेने के लिए तडप रही थी और मैं कब उसको चोद पाऊंगा!

देखते ही देखते वो दिन भी आ ही गया. मैं बात करते करते आंटी से काफी क्लोज हो चूका था. एक दीन मैंने आंटी से पूछा की आप के पति ऐसे बहार ही रहते हे फिर आप अपने बदन की प्यास को कैसे बुझाते हो? वो पहले तो शर्मा गई और कुछ नहीं बोली. लेकिन जब मैंने बहुत फ़ोर्स किया तो उसने कहा की पहले कोई बॉयफ्रेंड था उसका. लेकिन अब कोई भी नहीं हे और वो बिच बिच में अपनी चूत की फिंगरिंग कर लेती हे.

मैंने भी सही मौका देखा तो आंटी से पूछा की बॉयफ्रेंड बनाने का इरादा हे क्या? वैसे मैं भी बनने के लिए रेडी हु आप का बॉयफ्रेंड तो!! तभी उसने कहा की मैं तो ये सुनने के लिए काफी टाइम से वेट कर रही हूँ पर तुम तो बहुत स्लो हो! मैंने कहा यार तुम्हारी इतनी मस्त गांड को देख कर मैं तो काफी दिनों से उसका आशिक हो चूका हूँ. वो शर्मा गई और कहने लगी की कब दोगे अपना मुझे? मैं समझ चूका था उसके इशारे को और कहा जब भी तुम कहो मैं तो तैयार हूँ हों लेने के लिए और देने के लिए भी.

आंटी ने कहा की अगले हफ्ते मेरे बच्चे कुछ दिनों के लिए अपनी दादी के पास जानेवाले हे तभी कोई टाइम पर कर लेंगे. मैंने कहा जल्दी से भेजो बच्चो को तो वो बोली की इतना वेट किया हे तो कुछ दिन और वेट कर लो. मैंने आंटी के बूब्स मसल के कहा की तुम्हारी सेक्सी गांड के लिए तो मैं एक जन्म भी इन्तजार कर लूँगा मेरी जान. लेकिन जब तुमने कहा की मैं स्लो हूँ तो मैं अब सब कुछ एकदम जल्दी कर लेना चाहता हूँ तुम्हारे साथ.

वो बोली, अभी कुछ दिन ही सब्र करनी हे बस, बच्चो को तो जाने दो. मैंने कहा ठीक हे आंटी आप के लिए इन्तजार करूँगा मैं.

एक हफ्ते में ही उसके बच्चे अपनी दादी के पास चले गए और वो भी फ्री हो गई. फिर उसने मुझे कहा की रात को 2 बजे तुम आ जाना मैं डोर ओपन रखूंगी. मैंने कहा ठीक हे. मैं अब बेसब्री से रात के 2 बजने का इन्तजार कर रहा था. और वो टाइम आ ही गया.

मैं डरता हुआ उसके डोर पर पहुंचा तो डोर उसने ओपन ही रखा हुआ था. मैं सीधे अन्दर चला गया और डोर को बंद कर दिया. जैसे ही डोर बंद कर के मैं पलटा तो मेरी नजर सीधे ही आंटी के ऊपर पड़ी. वो क्या मस्त लग रही थी. उसने गाउन पहना हुआ था ब्ल्यू कलर का. और उसके अंदर वो एकदम सेक्सी पारी के जैसी लग रही थी.

मैं सीधे ही उसे स्मूच करने लगा और उसके बूब्स को दबाने लगा. और फिर मैंने अपने हाथ से उसकी मोटी गांड को भी दबाया. वो भी मुझे किस करने लगी और मेरा लंड कदा हो गया. वाऊ उसने अन्दर कुछ भी नहीं पहना था. मैंने उसका गाउन उतार दिया एकदम नेकेड कर दिया. वो मेरे सामने ही थी और मस्के की तरह उसके बूब्स चिकने थे और चूत के ऊपर के बाल भी उसने मेरे लिए निकाले हुए थे.

मैंने उसे कहा की बहोत साफ हे आज तो आप की चूत तो उसने कहा तुम्हारे लिए ही की हे साफ़. हम दोनों हंस पड़े और मैं उसके बूब्स के निपल्स को धीरे धीरे दबाने लगा. और वो एकदम सेक्सी आवाज में मोअन कर रही थी. मैंने उसकी गांड भी दबाई और कहा इतने समय से कहा छिपा के रखी थी अपनी इस सेक्सी गंद को मेरी जान! वो बोली, मेरी गांड तो बस तुम्हारे लंड का ही वेट कर रही थी मेरे सोना.

मैंने आंटी को चूस चूस के मस्त कर दिया, अब वो तडप रही थी की मैं उसकी चूत को चूस दू. मैंने ऐसा ही किया. क्या मस्त सॉफ्ट चूत थी उसकी. वाऊ ऐसी चूत किसी किसी की ही होती हे इतनी मस्त चूत. पिंक लिप्स और अन्दर भी मस्त चिकनी और गरम गरम!

मैं आंटी की चूत में अपनी जबान को डाल के चूसने लगा और उसकी चूत को खोल के अन्दर अपनी फिंगर भी डालने लगा. वो मस्त होने लगी और कहने लगी की कब तक फिंगर से करोगे तो मैं भी कर लेटी हूँ अपने लंड के दर्शन करवाओ जल्दी से मेरी चूत को. मैंने ऐसा ही किया. अपने लंड को उनकी चूत के ऊपर रख दिया और धीरे धीरे धक्का देने लगा. उसकी चूत खुली हुई थी तो मुझे उतनी प्रॉब्लम नहीं हुई. बस 2 3 धक्को में मेरा सारा लंड उसकी चूत के अन्दर चला गया. अब वो जोर जोर से मोअन कर रही थी. अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह हम्म्म्म हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह उईईइ अह्ह्ह्ह.

मैंने चूत चोदने की स्पीड को बढ़ा दिया. 20 मिनिट तक वो ऐसे ही मोअन करती रही और मैं उसे चोदता रहा. फिर जब मैं झड़ने वाला था तो आंटी ने मेरा लंड निकाल के अपने मुहं में ले लिया और मुझे ब्लोवजोब देने लगी.  मैंने भी उसका मस्त माउथ फकिंग करने लगा था वो जोर जोर से मुझे ब्लोवजोब दे रही थी. फिर 10 मिनिट में मैं झड़ गया और आंटी ने सारा माल चूस लिया और पी गई. और वो बोली की मस्त दही के जैसा वीर्य था तुम्हारा!

मैंने कहा, आंटी अब मुझे अपनी गांड दे दो जल्दी से!

उसने कहा की ले लो तुम्हारे लिए ही तो सम्भाल के रखी हे. आंटी ने बाते की उसका पति उसकी गांड बहुतमारता था लेकिन उसके सिवा किसी और को आंटी ने अपनी गांड नहीं मारने दी थी आजतक.

मैंने कहा चलो अब टाइम खराब ना करो और मुझे अपनी गांड की होल के दर्शन दे दो. मैंने उसे पलटाया और गांड के ऊपर चमाट लगाईं. उसने कहा की धीरे मारो दर्द होता हे. मैंने कहा दर्द होगा तभी तो मस्ती चढ़ेगी ना मेरी जान को! मैंने गांड को मार मार के एकदम लाल कर दी और उसकी गांड के छेद में अपनी फिंगर डाल के हिलाने लगा. वो भी मस्त हो गई थी और वो मोअन करने लगी थी, अह्ह्ह अह्हह्म्म्म अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह चोदो मेरी गांड को अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह.

मैंने अपना लंड उसकी गांड के छेद पर रखा और फिर धक्का मारने लगा. कुछ ही धक्को में मेरा पूरा लंड उसकी गांड में घुस गया और मैं उसकी गांड को कस कस के चोदने लगा. और मैने अपनी स्पीड बढ़ा ली और उसके बूब्स दबाता रहा. वो मस्त हो रही थी और मेरे स्ट्रोक्स का जवाब उसकी गांड हिला हिला के दे रही थी.

20 मिनिट चोदने के बाद मैं उसकी गांड में ही झड़ भी गया. और मैं उसके ऊपर ऐसे ही थोड़ी देर लेटा रहा. वो बोली की इतना मस्त गांड सेक्स तो मेरे हसबंड ने भी मेरे साथ नहीं किया आजतक. आज तुमने तो मुझे खुश ही कर दिया. अब मैं हमेशा अपनी गांड तुम्हारे पास ही मरवाउंगी!

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone


chudai dekhi maa kichut me lund storynew sex hindi storyjija sali ki sex storyindian sex history in hindimausi ki chut marisaas ki chudai hindi storyafreen ko chodahindi sexy story websitemausi ki chudai new storysasur bahu ki sexy kahaniantarvassna comindian sexy storymaine apni dadi ko chodachut ka dhakkanall sexy storysardi me chudaichut ke darshankàmuktacar sikhate chudaividhwa aunty ko chodasex story with bhabhi in hindibhai bhan ki sexy storysaas aur damad ki chudaimeri cudaiholi par chodabaap beti chudai story in hindipriyanka bhabhi ki chudaimausi ki beti ki chudaibhabhi ki gaand fadisex story bhabi ko chodapadosan ki chudai antarvasnamama ke ladki ki chudaisex with aunty story in hinditrain me aunty ki chudaisasur ne bahu ki gand marisadi suda bahan ki chudaibahurani ki chudaisex kahani with imagekhala ki beti ko chodasex stories in hindi with picssaroj bhabhi ki chudaisnehal ki chudaipinki ki chudaichudai ki kahani in hindi fontdamad se chudaichoti bahan ki chudai storychudai dekhi maa kisagi sister ki chudaipadosan bhabhi ki chudai kahanimaa ki chudai ki story in hindiantravsana comsex stores hindehindi family chudai kahanidesi gand chudai storydardnak chudai ki kahaniboss ne mummy ko chodasexy story hindi familysex stories hindi indiarashmi ki chudaibua ki gandindian sex stories latestkallo ki chudaitaai ki chudaisasu ki chudai ki kahanimaa ke sath honeymoonbhai bahansexsexy kahani with photohindisexystoriesdadi ki chudai hindi storysexy kahani mamiteacher ki chudai ki story