एक रात माँ के नाम


Click to Download this video!
loading...

हेलो दोस्तों में हनी आप सभी के लिए फिर अपनी एक नई फ्री कहानी लेकर आया हूं. मुझे उम्मीद है आपको मेरी यह कहानी भी मेरी पहले वाली कहानियो की तरह बहुत पसंद आएगी. मैं अपनी कहानी शुरु करने से पहले आप सब को अपने बारे में बता देना चाहता हूं, मेरे कुछ दोस्त मुझे पहले से ही अच्छे से जानते हैं.

क्योंकि मैं पहले भी अपनी काफी कहानी आपको बता चुका हूं. आज मैं फिर से अपना थोड़ा सा इंट्रोडक्शन अपने नये दोस्तों को देना चाहूंगा. दोस्तों जैसा कि मैंने पहले बताया मेरा नाम हनी है, मेरी उम्र २० साल है और मैं कॉलेज में बीकॉम कर रहा हूं. मेरी हाइट ५ फुट ४ इंच है और मैं दिखने में ठीक-ठाक हूं, मेरे लंड का साइज़ ७ इंच है जो किसी भी चूत की प्यास बुझाने के लिए काफी है.

loading...

मेरा लंड आजतक जिस किसी की चूत में गया है, वह आज तक मेरे लंड को लेती है, मैं २० साल की उमर में ही करीब १५ लड़कियां और ४ आंटी और ६ भाभी को चोद चुका हूं, इन सब में मेरी अपनी सगी माँ भी शामिल है. मैं पहले भी अपनी मां को चोद चुका हूं.

loading...

और दोस्तों मेरी आज की कहानी भी अपनी मां की चुदाई  के बारे में है, जैसा कि आप जानते हैं मैं अपनी मां को पीछले २ साल से चोद रहा हूं, पर अब मेंने ने अपनी मां को सिर्फ एक बार तसल्ली से चोदा था, जब मैंने उन की चूत पहली बार मारी थी, उस दिन मैंने उन्हें करीब ४ घंटे तक लगातार खूब जमकर चोदा था.

मेरी उस दिन की मेहनत आज अपना पूरा रंग दिखा रही है, मम्मी मुझसे हर हफ्ते करीब ३ बार चुद जाती है, पर मेरे घर में पापा होने के कारण मैं उन्हें अच्छे से चोद नहीं पाता, मैं अब बस मम्मी को करीब १५ या २० मिनट ही चोद पाता हूं. क्योंकि पापा को मम्मी पर शक हो गया था, क्योंकि मैं जिस दिन की ४ घंटे चुदाई करी थी उस दिन मैंने मम्मी की चूत और गांड का भोसड़ा बना दिया था.

जिसे देखकर पापा को एकदम शक हो गया था, इसलिए अब मम्मी मुझसे ज्यादा देर तक नहीं चुदती है, पर मैं और मेरा लंड तो अपनी मस्त मम्मी को ४ या ८ घंटे तक चोदना चाहते हैं.

मैं अपनी मम्मी के बारे में थोड़ा सा आपको बता दूं, मेरी मम्मी की उमर २९ साल है और उनका रंग गोरा है. अगर मैं उनके फिगर की बात करूं तो शायद आप यकीन नहीं करेंगे, मेरी मम्मी का फिगर ३४-३६-३८ है. २९ साल की उम्र में ऐसा फिगर होना और ऊपर से मम्मी की जवानी.. यह दोनों मिलकर बिस्तर पर आग लगा देते हैं.

मम्मी की चूदाई करता हूं तो वह मुझे बताती है कि तेरे पापा का लंड तेरे से आधा है, मैंने न जाने तुझे क्या खा कर जन्म दिया है? तू तो एक बार अगर मेरे ऊपर चढ़ जाता है तो उतरने का नाम भी नहीं लेता और मेरे राजा बेटे तेरे लंड के तो क्या कहने? जब तेरी शादी हो जाएगी मैं तो तब भी तेरे लंड को लूंगी. अगर तूने मुझे मना किया तो तेरी बहू को उसके मायके भेज कर तुझसे जबरदस्ती चूदाई करूंगी..

और रही तेरे पापा की बात वह मुझे कभी कभी नामर्द लगते हैं. पहले शुरु शुरु में तो मुझे तेरी तरह जमकर चोदते थे, पर अब उनकी बैटरी डाउन हो गई है. अब तो यह हाल है कि मैं जैसे ही उनका लंड अपने हाथ में पकड़ के ऊपर नीचे करती हूं, तभी उनके लंड में से एक छोटी सी पिचकारी निकल जाती है, उसके बाद वह आराम से सो जाते हैं.  और मैं रात भर अपनी चूत में मूली गाजर ना जाने क्या-क्या लेकर अपनी चूत को शांत करती हूं.

पर अब मेरे राजा बेटा है, जो मेरी और मेरी चूत की ना करा देता है. बस बेटा तू हमेशा ऐसे ही रहना, तू तो अपनी वाइफ की चूत फाड़ेगा और पहले ही दिन उसे रुला देगा. वैसे तो मेरी मां मुझे ऐसे बहुत कुछ कहती है, और मेरा जोश सातवें आसमान पर चला जाता है, और मैं एक ही झटके में अपना लंड डाल कर उनकी चूत को फाड़ देता हूं.

यह बात पिछले सैटरडे की है. जब पापा ने मुझे कहा कि मैं आज शाम की ट्रेन से दिल्ली जा रहा हूं उन्हें कोई ऑफिस की मीटिंग अटेंड करने जाना था. यह सुनते ही मैंने अपने दिमाग में रात का प्रोग्राम बनाना शुरु कर दिया. पापा ने कल शाम तक वापस भी आ जाना था. मैं जब शाम को ५ बजे अपनी क्लास खत्म करके घर आया.

तो मैंने देखा कि पापा पहले से ही जाने के लिए तैयार खड़े हैं. मैंने अपनी बुक्स रखी और पापा को बस स्टैंड तक छोड़ने चला गया, मैं जानकर पापा को बस में बिठा कर आया क्योंकि मैं अपनी  पूरी तसल्ली चाहता था कि पापा बस में बैठ गए हैं और चले गए हैं मुझे. घर आते आते रात के ८:३० बज गए. घर आते ही मम्मी ने मेरी पसंद की मटर पनीर की सब्जी बनाई थी.

मैंने बड़े शौक से खाना खाया, उसके बाद मम्मी ने मुझे दूध के लिए पूछा पर मैंने उनके बूब्स की तरफ इशारा करके वह वाला दूध पीने के लिए कह दिया. मम्मी ने मेरी तरफ मुस्कुरा दिया और कहा चलो तुम नहा लो, मैं अभी आई फिर. मैं अपने राजा बेटे को खुद अपना दूध पिलाऊंगी.

डिनर करने के बाद में उठा और सीधा बाथरूम में नहाने चला गया. मैंने नहाते हुए अपने लंड को शेव करके चिकना बना दिया और अपने आप को और अपने लंड को अच्छे से साबुन लगाकर साफ किया, फिर मैं बाहर आया और मैंने सिर्फ एकअंडरवियर ही पहना और अपनी बॉडी पर फोग का परफ्यूम लगाया ताकि हम दोनों में से खुशबु आये ना की पसीने की बदबू..

फिर मैं मम्मी के बेड में गया और बेड पर लेट कर अपने मोबाइल में सेक्सी मूवी देखने लगा. करीब १० मिनट में मम्मी अंदर आई और आते ही उन्होंने पूरा रुम की लाइट बंद कर दी. और अपने कमरे में करीब २० केंडल लगा दी. मैं यह सब देख कर हैरान था कि आज मम्मी यह सब क्या कर रही है? उन्होंने एक पिंक कलर की नाइटी पहनी हुई थी.

और जब सारी कैंडल जल गई तो वह मेरे सामने खड़ी होकर मुझे देखने लगी. फिर उन्होंने अपनी नाइटी उतार दी, जैसे ही उन्होंने अपनी नाइटी उतारी तभी मेरे मुंह से निकला तेरी मां की चूत.. वह क्या चीज है.. आज क्या आप मेरी जान लोगे क्या?  दोस्तों अगर उस टाइम आप भी मेरी मम्मी को देखते तो आपके मुंह से भी यही शब्द निकलते..

क्योंकि मम्मी ने ब्लैक कलर की ट्रांसपरंट ब्रा और पैंटी पहने हुई थी. ब्रा उनकी इतनी छोटी थी कि सिर्फ २०% बूब्स ही उसमें थे और बाकी बूब्स बाहर नंगे थे, और कुछ ऐसा  पेंटी के साथ था, उनकी पेंटी सिर्फ आगे ही पेंटी थी और पीछे सिर्फ एक पतला सा धागा था जो कि उनकी चूतड़ों की दरार में फंसा हुआ था.

मम्मी ने अपने होठों को डार्क पिंक किया हुआ था, उन्हें देखकर ना जाने मुझे क्या हुआ. मैं जट से उठा और उनको अपनी बाहों में भर कर उनके होठों को अपने होठों में ले लिया. मैं जोर से मम्मी के दोनों होठो को चूस रहा था, तभी मैंने महसूस किया कि मेरे मुंह में मम्मी की चिकनी जीभ आ रही है, मैं तभी उनकी जीभ को अपने मुंह में ले ली और जोर जोर से चूसने लगा.

अब उन के मुह की थूक मेंरे मुह के अंदर आ रही थी, जिसे मैं मजे में पी रहा था. मैंने अपनी जीभ उनके मुंह के अंदर घुमाई और अंदर से उनका मुह चाटा और हम दोनों ने एक दूसरे के मुंह में अपनी अपनी जीभ डाल रहे थे, उसके बाद मैंने मम्मी की ब्रा और पेंटी दोनों फाड़ दिया और उन्हें बेड पर पटक दिया..

फिर मैं उनके ऊपर चढ़ गया उनके दोनों बूब्स को बारी-बारी से पागलों की तरह चूसने लगा. उसके बाद मैंने उन की चूत पर हमला बोल दिया. पहले मैं उनकी बूब्स करीब ४० मिनट तक चुसा और तब तक उन की चूत अपना पानी छोड़ चुकी थी. जिसे मैं चाट चाट कर चूस चूस कर पी गया.

मम्मी की चूत और गांड मुझे बहुत टेस्टी लगती है. मेरा दिल करता है इन्हे सारा दिन और सारी रात चाटता ही रहूं. फिर मैं उनकी गांड और चूत दोनों को अच्छे से चूसा.

फिर मम्मी ने मेरे लंड से अपना मुंह से चूदवाया और फिर मैंने अपनी मम्मी की दोनों टांगें अपने कंधों पर रखि और अपना ८ इंच लंबा लंड उन की चूत में उतार दिया. मम्मी भी बड़ी मस्त होकर मेरा लंड अपनी चूत में ले रही थी.

लंड लगातार पिस्टन की तरह चूत में अंदर बाहर हो रहा था, फिर मैंने उन्हें घोड़ी बनाकर चोदा. मैं पूरी रात सुबह के ५  बजे तक उन्हें न जाने कितने स्टाइल में चोदा. और मैंने पूरी रात में ८  बार उनकी गांड मारी और करीब १२  बार उन की चूत मारी. मैंने हर बार अपने लंड का पानी मम्मी के मुंह में गिरा दिया.

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone