पहले प्यार में चुद गयी


Click to Download this video!
loading...

हेलो दोस्तों, आप सबको इशिता सेक्स बोम्ब का झुककर नमस्कार, ताकि आप सब मेरा क्लीवेज देख सके. मेरा फिगर ३४-२६-३४ है, रंग थोड़ा डार्क है, मेरे घर में मैं मम्मी और पापा है. यह स्टोरी २०१३ की है, जब मैं कॉलेज के पहले साल में थी, और मैंने अपनी वर्जिनिटी लूज़ की थी.

उसका नाम था देवांश, और वह और मैं काफी अच्छे दोस्त थे. हम रात भर फेसबुक पर चैट किया करते थे. देवांश दिखने में बहुत हैंडसम था. हाइट ६ फुट ४ इंच, रंग गोरा और पर्सनैलिटी ऐसी की कोई भी लड़की फ्लैट हो जाए. मैं भी मन ही मन उसे पसंद करती थी पर वह कही दोस्ती ना तोड़ दे इसलिए मैंने कभी उसे बताया नहीं.

loading...

वह अहमदाबाद में रहता था और मैं दिल्ली में कॉलेज कर रही थी. इसलिए हम ज्यादातर फोन पर या फेसबुक पर बात किया करते थे, एक दिन हम ऐसे ही चैट कर रहे थे कि सेक्स का टॉपिक निकल गया.

loading...

देवांश – क्या तुमने कभी सेक्स किया है?

मैं – नहीं.. तुमने?

देवांश – हां, सिर्फ एक बार.

मेरा दिल टूट गया पर फिर भी मैंने उसे पूछा किसके साथ?

देवांश – मेरी मामी के साथ. जब मैं बारहवीं के बाद छुट्टी मैं उनके घर गया था तब.

मुझे थोड़ा अच्छा लगा की उसने किसी लड़की के साथ नहीं कीया.

देवांश – लाइफ में कभी इतना मजा नहीं आया था जितना तब आया था, तुझे भी कभी मौका मिले तो कर लेना, बहुत मजा आएगा.

यह सब बातें सुनकर मेरे जिस्म में अजीब सा होने लगा था,  मुझे देवांश से चुदवाने की बहुत इच्छा हो रही थी, मुझे अपनी चूत में गीला महसूस हो रहा था, मुझे समझ नहीं आ रहा था क्या हो रहा है? इससे पहले मेरे साथ ऐसा कभी नहीं हुआ था. यह मेरा पहला अनुभव था.

देवांश – क्या तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड है?

मैं – नहीं. तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है?

देवांश – नहीं पर मुझे लगता है जल्द ही बन जाएगी.

मुझे बहुत खुशी हो रही थी क्योंकि वह मेरी ही बात कर रहा था.

मैं – अच्छा कौन है वह खुशनसीब.

देवांश – उसका नाम आई से शुरू होता है.

मैं – अच्छा मेरा नाम भी आई से ही शुरू होता है.

अब उसका ५ मिनट तक कोई मैसेज नहीं आया मुझे लगा उसे बुरा लग गया है, मैं उसे कॉल करने ही वाली थी कि उसका मैसेज आया.

देवांश – आई लव यू इशिता.

मेरी खुशी का तो जैसे ठिकाना ही नहीं रहा, मैं पागल हो गई कुदने लगी, और तुरंत उसे कॉल करके बोला. आई लव यू टू पागल. और वह भी जोर से हंसने लगा और आई लव यू टू इशिता बोलने लगा.

उसके बाद हम दोनों ने पूरी रात वीडियो चैट की ऐसा करके काफी दिन गुजर गए.

मैं उससे मिलना चाहती थी इसलिए मैंने उसे कॉल कर के दिल्ही आने को बोला. इस वीकेंड पर प्लान करता हूं उसने बोला और शाम को उसका मैसेज आया कि वह ३ दिन के लिए दिल्ली आ रहा है, मैं बहुत खुश हो रही थी कि मैं पहली बार उसे मिलूंगी और क्या होगा यह सब सोचने लगी.

दूसरे दिन में अपनी फ्रेंड को लेकर मोल गयी और महंगी वाली ब्रा और पैंटी खरीदी साथ में दो वन पिस भी लिए, में इन कपड़ो में एकदम पटाखा लग रही थी, मैंने सोचा मुझे ऐसे कपड़ो में देखकर देवांश मुझे चोदे बगैर नहीं जाएगा.

और २ दिन के बारे देवांश दिल्ली आया, मैं उसे लेने के लिए पहुंच गई थी, वही वन पीस पहनकर जो मैंने खरीदा था. स्टेशन पर काफी लोग मुझे गंदी नजरों से देख रहे थे, क्योंकि वन पिस में मेरी टांगें क्लियर दिख रही थी और मेरी गांड भी ज्यादा उभरी हुई दिख रही थी.

देवांश ने बाहर आते हैं मुझे टाइट हग किया मेरे बूब्स उसके स्ट्रांग छाती पर दब गए, हम ऐसे ही २ मिनट चिपके रहे, फिर अलग हो गए, मुझे बहुत बुरा लग रहा था पर क्या करते हम पब्लिक प्लेस में थे.

देवांश बोला तुम बहुत ही ब्यूटीफुल लग रही हो, फीर हमने टैक्सी ली और होटल के लिए निकल पड़े, उसने टैक्सी में ही मेरा हाथ पकड़ा हुआ था, हम होटल पहुंचे और बैग रूम में भिजवा दिए.

देवांश ने मुझे पूछा कि थोड़ा खाना खा लेते हैं, क्योंकि उसे बहुत भूख लगी थी. पर मुझे तो सिर्फ उसे ही खाना था, पर उसे बता नहीं पा रही थी.

फिर खाना खाने के बाद हम रुम में गए, मैं बेड पर बैठी और वह फ्रेश होने चला गया, तभी डोरबेल बजी, मैंने दरवाजा खोला तो वेटर शेपियन की बोतल ले कर खड़ा था, मुझे पता चल गया कि देवांश ने ऑलरेडी सब प्लान किया हुआ है.

देवांश फ्रेश होकर बाहर आया बोतल को खोला और दो गिलास में डाली, और एक मुझे ऑफर किया. मैंने आज तक कभी ड्रिंक नहीं की थी, उसने चियर्स कह कर पूरा ग्लास पी गया, मैंने भी थोड़ा टेस्ट किया पर मुझे बहुत कड़वा लगा, तो देवांश बोला पहली बार मैं सबको कड़वा ही लगता है.

मैंने दो और सिप लिए और वह तीन गिलास पी गया, अब वह धीरे धीरे मेरे पास आने लगा, और एक हाथ मेरे जांग पर रख दिया, मेरे को जिस्म मैं जैसे ४४० वोल्ट का करंट दौड़ने लगा.

फिर उसने मेरी नेक पर किस करने लगा, मेरी सांसे तेज हो गई, मुझे समझ नहीं आ रहा था क्या हो रहा है? मुझे बस मजा आ रहा था. फिर उसने अपना हाथ जांघ से मेरी चूत पर रख दिया, मेरी आंखे जो अब तक बंद थी खुल गयी और उसकी तरफ देखा तो उसने मुझे कीस कर दिया.

और धीरे धीरे मेरी चूत को मेरी पैंटी के ऊपर से सहलाने लगा, मुझे जन्नत जैसी फीलिंग आ रही थी. जिंदगी में आज तक ऐसा मजा नहीं आया था, जैसा अभी आ रहा था.

अब मैंने भी अपना हाथ उसके लंड पर रख दिया, मुझे मालूम पड़ रहा था कि उसका लंड बड़ा है और आज मुझे काफी दर्द होने वाला है, मैं आज अपनी वर्जिनिटी लूज़ करने वाली हूं और हमेशा के लिए देवांश की होने वाली हूं.

loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone