पड़ोसी लड़के के घर जाकर अपनी चूत की खुजली मिटाई


Click to Download this video!
loading...

हेल्लो दोस्तों, मेरा नाम अर्चना है और मैं कानपूर जिले की रहने वाली हूँ। आज मैं आप सभी को अपनी उस चुदाई की कहानी सुनाने जा रही हूँ जब मुझे चुदाई के असली दर्द के बारे में पता चला, कहानी सुनाने से पहले मैं आप सभी को अपने बारे में बता दूँ। मेरी उम्र 21 साल और मेरी अभी तक शादी नही हुई है. मेरी शादी न होने के कारण मैं चुदने के लिए तडप रही थी। इसीलिए मैंने फैसला किया अब किसी न किसी से चुदना ही पड़ेगा, कब तक अपनी उंगली डाल डाल कर काम चलूंगी। वैसे मैं देखने में बहुत ज्यादा सुंदर तो नही हूँ लेकिन मेरे चहरे की कटिंग बहुत ही अच्छी है। और मेरे मम्मो तो कमाल के है। मेरी चूचियां बहुत ज्यादा बड़े नही है लेकिन काफी टाईट है। और मेरी चूत तो अभी भी सटी हुई है और मैं अपनी चूत को हमेशा साफ़ रखती हूँ क्योकि मुझे गंदगी पसन्द नही है। दोस्तों मेरा फिगर 32 –26 -36 है। मैंने कभी भी नही सोचा था कि मैं भी अपने रिश्ते में ही किसी से चुद जाउंगी। जब मैं 19 साल की हुई तब मेरी चुदाई की कहानी शुरु हो गई। लड़के मुझे और मेरी चूची को घूरने लगे और साथ में मेरे ऊपर कमेन्ट भी देने लगे। लेकिन मैं उन लोगो को उनसुना कर देती थी और वहां से चुपचाप चली जाती थी। हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम
मैं तो चुदाई के बारे में कुछ जानती भी नहीं थी लेकिन जब एक बार मैं अपने भैया के फोन से मूवी देख रही थी और फिर बीच में अचानक से चुदाई वाली वीडियो चलने लगी। पहले मैं तो डर गई लेकिन कुछ देर तक देखने पर पता चला की ये चुदाई की वीडियो है। मेरे मन में उस दिन पहली बार चुदने की ख्वाहिश जगी, मैं चाहती थी की कोई स्मार्ट और काफी मोटे लंड वाला लड़का मुझे चोदे और मेरी चूत को पूरी तरह से फैला दे।

दोस्तों, मेरे घर के बगल में राहुल नाम का लड़का रहता है, वो देखने में किसी हीरो से कम नही है और काफी अच्छी बॉडी भी है उसकी। मैं राहुल को बचपन से चाहती हूँ, मैंने जब से चुदाई वाली वीडियो देखा तब से मेरे मन में तो केवल राहुल के साथ चुदाई से सपने देखने लगी थी। मैं चाहती थी वो मुझे चोदे और मुझको उसके लंड के स्वाद का इन्तजार था। हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम
कुछ दिन पहले की बात है राहुल की मम्मी और उसके बाकी के घर वाले सब लोग उसकी नानी के घर चले गये थे शादी में और राहुल अकेला था घर पर। उसकी मम्मी ने मेरे मम्मी से कहा – उसके लिए एक दिन खाना भेज देना और दुसरे दिन तो हम लोग तो आ ही जायेंगे। मेरी मम्मी ने उनसे कहा – ठीक है मैं उसके लिए खाना भेज दूंगी आप चिंता मत करिए
राहुल की मम्मी चली गई, दोपहर हुआ मम्मी ने मुझसे कहा – जाओ राहुल घर पर अकेला है उसको खाना दे कर आओ। मम्मी की बात सुन कर मुझे बहुत अच्छा लगा, मैंने मन में सोचा राहुल घर पर अकेला है हो सकता है मेरा उसके साथ कुछ सीन हो जाये। मैंने खाना लेकर राहुल के घर पहुंची, मैंने दरवाज़ा खटखटाया कुछ देर बाद वो बाहर आया मैंने उसको खाना दिया और कहा – खाना खा लो मैंने खाना लाई हूँ। उसने मुझसे खाना लिया, खाना लेते समय उसका हाथ मेरे हाथ में छू गया मुझे बहुत अच्छा लगा। मैं वहां से चली आई
शाम हुई मम्मी ने मुझसे फिर से कहा – जाओ खाना दे आओ और दोपहर का और ये दोनों बर्तन ले आना। मैंने कहा ठीक है अभी जा रही हूँ।
रात के 7:30 बज रहे थे जब उसके घर पहुंची तो दरवाज़ा थोडा सा खुला हुआ था और मैंने बिना आवाज दिए ही अंदर चली आई, बाहर वाले कमरे में तो कोई नही था लेकिन जब मैं अंदर गई तो मैंने देखा राहुल चुदाई की वीडियो देख रहा था। उसकी नजर अचानक मुझ पर पड़ी, उसने तुरंत ही फोन बंद कर दिया और नीचे की तरफ देखने लगा। उसने मुझसे कहा – देखो ये तुम किसी को मत बताना तुम जो कहोगी मैं करूँगा लेकिन ये किसी मत बताना। मेरे मन में तो यही चल रह था की मैं राहुल से कह दूँ की मैं तुमसे चुदना चाहती हूँ क्या तुम मुझसे चोदोगे, लेकिन मुझे शर्म लग रही थी।

loading...

कुछ देर के बाद मैंने उससे कहा पहले तो तुम खाना खाओ फिर ये सब बातें करना। जब राहुल ने खाना खा लिया तो मैंने उससे कहा – देखो पहली बात तो ये की आज के बाद तुम ये सब नही देखोगे, और दूसरी बात मैंने कभी ये देखा नही है तो मेरा मन भी कर रहा है देखने को अगर तुम मुझे आज दिखा दो मैं किसी से नही कहूँगी। उसने कहा ठीक है
मैं उसके बगल में बैठ गई और चुदाई की वीडियो को राहुल ने लगा दिया, शुरू में तो राहुल केवल वीडियो ही देख रहा था लेकिन कुछ देर बाद जब उसका मूड भी चोदने को करने लगा तो मेरी चूचियो की तरफ देखने लगा। और कुछ देर बाद उसने अपने हाथ को मेरी जांघ पर रख दिया और धीरे धीरे अपने हाथो को हिलाने लगा। कुछ देर बाद वीडियो ख़त्म हो गया, मेरा मन था की राहुल खुद ही कहे मुझसे चुदवाने के लिए लेकिन पहले उसने कुछ नही कहा लेकिन जब मैं जाने लगी तो उसने मेरे हाथ को पकड लिया और मुझे कहा – मैं चाहता हूँ तुम कुछ देर और रुको मैं तुमसे और बात करना चाहता हूँ। मैंने कहा – कहो जो कहना है, उसने बिना कुछ कहे फिर से वीडियो लगा दिया और मुझसे कहा – क्या तुम मुझसे चुदना चाहोगी???? मैं तो चाहती ही थी की वो मुझे चोदे। मैंने उसको मना नही किया और मैंने कहा – बहुत देर लगा दी तुमने मुझसे ये कहने में। हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम
उसने तुरंत ही मुझको गोदी में उठा कर बेड पर ले गया, उसने मुझे बेड पर लिटा दिया मेरे पैरो को सहलाते हुए मेरे चूत से होते हुए मेरी चूचियो को चुमते हुए मेरे गले को चूमने लगा। कुछ देर पहले तो मेरे गले को राहुल ने पिया और फिर वो मेरे कान को अपने मुह से काटने लगा जिससे मैं भी धीरे धीरे जोश में आपने लगी। उसने मेरे गाल को चुमते हुए मेरे होठ को चूमने लगा और मेरे निचले होठ को अपने मुझे में लेकर पीने लगा। मैंने भी उसको पाने बाँहों में भर लिया और उसके साथ में मैं भीं उसके होठ को पीने लगी। कुछ देर किस करने से राहुल और भी जोश में आने लगा और वो मेरे होठ को काटने लगा और अपने हाथ को मेरे टॉप में डाल कर मेरे ब्रा के ऊपर से ही मेरी चूचियो को दबाने लगा। और साथ में मुझे किस भी कर रहा था। मुझे काफी मज़ा आ रहा था

loading...

बहुत देर तक एकक दुसरे के होठ को पीने के बाद, राहुल मेरी चूचियो की तरफ बढ़ने लगा और मेरे चूचियो के बीच में कपड़ो के ऊपर ही अपने मुह को रखा कर अपने दोनों हाथो से मेरे मम्मो को दबाने लगा और कुछ ही देर बाद मेरे टॉप को उसने निकाल दिया और मेरे काले रंग के ब्रा में छुपे हुए मेरी गोरी गोरी चूचियो को दाबने लगा और मेरे निप्पल को अपने दांतों से खीचने लगा। वो मेरे चूचियो को अपने दोनों हाथो से गुब्बरे की तरफ से जोर जोर से दबा रहा और साथ में मेरी हलके काले निप्पल को चूम भी रहा था। कुछ देर बाद उसने मेरे चूचियो को पीना शुरू किया और साथ में मेरी चूचियो को दबा भी रहा था और अपने दुसरे हाथ से मेरे कमर को भी सहला रहा था। मुझे काफी मज़ा आ रहा था, कुछ देर बाद राहुल बेकाबू होने लगा और वो दूध को खूब तेजी से दबाया और फिर अपने मुह के अंदर ले लेता और फिर कुछ दे बाद बाहर निकालता। कभी कभी तो उसके दांत मेरे स्तन में चुभ भी जाते थे जिससे मैं चीख पड़ती थी और उसने बाल को पकड लेती थी।
लगभग 20 मिनट तक उसने मेरे स्तन को पिया और फिर मेरे पेट को चुमते हुए मेरी नाभि को पीते हुए मेरी चूत के पास पहुंचा, उसने मेरे लोवर को निकाल दिया और साथ में मेरी नीली पैंटी को भी निकाल दिया और फिर मेरी चूत को सहलते हुए अपने उंगली को मेरी चूत में लगाने लगा। और फिर कुछ देर बाद राहुल ने अपने 9 इंच के लंड को बाहर निकला और उसने मेरे हाथ में अपने लंड को रख दिया और मुझसे कहा – मेरे लंड को चुसो, मैंने उसने लंड को अपने हाथ में लेकर पहले कुछ देर सहलाया और फिर कुछ देर बाद मैंने उसको अपने मुह में रख लिया चूसने लगी। मैं उसके लंड को बड़े प्यार से चूस रही थी लेकिन कुछ देर बाद राहुल ने मेरे चहरे को पकड लिया और अपने लंड को तेजी से मेरे मुह में डालने लगे। कुछ देर तक ठीक था लेकिन जब उसके अंदर की वासना और भी भड़क गई तो वो मेरे मुह को ही चोदने लगा। हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम
कुछ देर बाद जब वो अपने आप को रोक नही पाया तो उसने जल्दी से मुझे लेटा दिया और मेरे ऊपर चढ़ गया. मेरी चुदाई करने केलिए अपने लंड को मेरी चूत में लगा कर कुछ देर धीरे धीरे मेरी चूत के दाने में रगडते हुए मेरी चूत के अंदर डाल दिया जिससे मैं हल्का चीखते हुए पीछे हो गई और अपने चूत्त को मसलने लगी। राहुल ने फिर से अपने लंड को मेरी चूत में लगा कर अपने लंड को मेरी चूत के अंदर डाल दिया और मेरी चुदाई करने करने लगा। अफ्ले कुछ देर बहुत दर्द हो रहा था, लेकिन कुछ देर लगातार चुदाई करने से मेरी चूत थोड़ी ढीली हुई तो राहुल को चोदने में और मुझे चुदने में मज़ा आने लगा था।

कुछ देर चुदाई करने के बाद जब राहुल पूरी तरह से जोश में आ गया तो वो बड़ी तेजी से मेरी चूत को चोदने लगा और साथ में मेरी चूची को भी तेजी से दबाते हुए मेरी चुदाई करने करने लगा। उसके मोटा और थोडा टेढ़ा लंड मेरी चूत को फाड़ रहा था और मैं जोर जोर से .. ….. हहा आह आह आह …ओह्हो ऊओह्ह्ह ओह्ह्ह…. हा हा हा .. उफ़ उफ़ उफ्फ्फ्फफ्फ्फ़ … उफ्फ्फ .. प्लीस्स्सस्स्स .. प्लीस्स्स्सस्स्स आराम आराम से .. आःह्ह आह्ह्हह्ह …. मम्मी मम्मी …. हूँ उनहू …… करके चीखने लगी। उसकी चुदाई की रफ़्तार तो धीरे धीरे बढती ही जा रही थी ऐसा लग रहा था कुछ ही देर में मेरी चूत फट ही जायेगी, लेकिन बहुत तेजी से चुदाई करने से राहुल कुछ देर बाद मुझे चोदना बंद कर दिया और कुछ देर बाद मुझे किस करते हुए मेरे चूचियो को दबाया। हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम
कुछ देर बाद उसने फिर से मुझे चोदना शुरू किया लेकिन इस बार उसने मुझे ऊपर कर दिया और खुद नीचे लेट गया और फिर मेरी चुदाई करना शुरू किया। पहले तो उसने अपने हाथो से मेरे कमर को ऊपर नीचे कर रहा था लेकिन कुछ देर बाद मैं खुद ही खूब नीचे तक जाने लगी ताकि उसके लंड मेरी चूत के ज्यादा अंदर तक जा सके। बहुत देर तक मुझे चोदने के बाद राहुल झड़ने वाला था था उसने मेरी चूत से अपना लंड बाहर निकाला और मुठ मरना शुरु किया, कुछ देर बाद जब उसका मॉल निकलने वाला था तो उसने अपने लंड को मेरे मुह में लगा दिया और मेरे मुह पर ही अपने वार्य को गिरा दिया।
दोस्तों मुझे उस दिन चुदने में बहुत मज़ा आया। मैं उम्मीद करती हूँ आप संभी को मेरी कहानी जरुर पसंद आई होगी।

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone