में गे सेक्स पसंद करता हु


Click to this video!
loading...

हेलो दोस्तों, मेरा नाम प्रिंस है. मेरी उम्र ३२ साल है मैं मुंबई में रहता हूं मैं सेक्स स्टोरी पढ़ने का बहुत शौकीन हूं मैं एक मीडियम फैमिली से बिलोंग करता हूं मेरी फैमिली में तीन लोग हैं पापा जॉब करते हैं, मॉम हाउस वाइफ है. मैं भी जॉब करता हूं स्टोरी पे आते हे, मुझे गांड मरवाने का कोई इरादा नहीं था.

यह स्टोरी मेरी गांड मरवाने की है, जो मैंने कभी सोचा नहीं था, कि मैं गांड मरवाने का आदी हो जाऊंगा, यह बात इस साल फरवरी २०१७ की है.

loading...

एक दिन नेट पर गे सेक्स साईट देखा, लॉग इन किया और चेट करना शुरू कर दिया. एक दिन चैट पर साजिद २८ साल का लड़का मिला, साजिद इलेक्ट्रॉनिक कंपनी में सीनियर एग्जीक्यूटिव है. वह मेरे घर के पास में रहता था. बातों बातों में उसने मिलने को बुलाया. हम लोग मार्केट में मिले, वह थोड़ा मोटा था. फिर व्हाट्सअप पर चैटिंग करने लगे उसने बोला की एक दिन अकेले मिलो.

loading...

एक दिन मेरे घर पर कोई नहीं था, पापा जॉब पर गए थे और मा बाहर गई थी. उसका कॉल आया मैं बोला घर पर कोई नहीं है तो वह बोला मैं आता हूं, १५ मिनट बाद वह घर पर आ गया, उसने बोला कुछ नहीं करूंगा बस मेरा हाथ में ले लो. उसने अपना पेंट निकाल दिया, उसका लंड सोया था काले कलर का थोड़ा मोटा लंड था, फिर उसने कहा हाथ में ले लो, तो मैंने हाथ में लेकर हिलाने लगा..

फिर उसने मेरा सर उसके ऊपर दबाने लगा, मेरा भी मन था लंड मुंह में लेने का. आहिस्ता आहिस्ता आधा लंड मुंह में ले लिया, उसके मुंह से आह्ह अहह उऔउ आवाज आई, मैं उसका लंड चूसने लगा, ५ मिनट तक चूसने के बाद उसने मेरा सर पकड़ के पूरा लंड अंदर डाल दिया, अब उसका लंड पूरा खड़ा हो गया था, मोटा काला लंड ६.५ इंच का, मैंने उसका लंड बाहर निकाल दिया, पूरा गले में चला गया था, मेंने सांस लिया उसने कहा जोर से सक करो, मैंने बोला नहीं होगा.

वह मेरी गांड पर हाथ फेर रहा था. उसने कहा कभी गांड मरवाई है? तो मैंने बोला नहीं, लेकिन गे स्टोरी बहुत पढ़ता हूं. वह बोला आज मरवाएगा. मैंने बोला आराम से करना और कंडोम लगा लेना.

उसने पॉकेट से कंडोम निकाला और लगाने लगा, उसने बोला सीधा लेट जा, मैं लेट गया. उसने मेरा पैर फैला दिया और मेरे पैरो को दोनों कंधों पर रख दिया, उसने बिना तेल लगाए लंड मेरी गांड के होल पर रखा और एक जोर का झटका दिया, बहुत दर्द हुआ और लंड गया नहीं. मैं बोला नहीं बहुत दुख रहा है.

वो बोला पहली बार है तो दर्द होता है, मेरी गांड बहुत दुख रही थी. फिर मैंने बोला थोड़ा तेल लगा लो, उसने मेरी गांड पर लगाया.

अब बारी थी गांड में डालने की, मेरी गांड फट रही थी. अब क्या होगा? अब वह समझ गया था कि मेरी गांड अभी वर्जिन है. उसने आराम आराम से लंड गांड में डालना शुरु किया, उसका लंड बहुत मोटा था. थोड़ा ही गया कि दर्द बहुत हो रहा था. उसका सुपाड़ा अंदर चला गया था, मेरी तो जान ही निकल रही थी, वो रुक गया  फिर एक आराम से झटका मारा तो आधा लंड अन्दर चला गया, मेरी आंखों से आंसू आ गए. उसने बोला बस चला गया है, अब मजा आएगा.

फिर उसने एक आखरी झटका मारा तो पूरा लंड गांड में चला गया, ऐसे लगा की गांड फट गई, मैं बोला निकालो लेकिन वह कस के पकड़ लिया, २ मिनट तक वह ऐसे ही था. फिर आराम आराम से झटके मारने लगा दर्द के मारे मेरी फटी जा रही थी. ५ मिनट बाद दर्द कम हो रहा था, बदन को ढीला छोड़ दिया उसने शॉट लगाना चालू कर दिया.

मेरी गांड में लंड अंदर बाहर जा रहा था मुझे महसूस हो रहा था, १० मिनट गांड मारी फिर लंड बाहर निकाल लिया, ऐसे लगा की बोतल खोलने की आवाज आई. मैंने महसूस किया गांड का होल बड़ा हो गया है, उसने थोड़ा तेल लगाया फिर एक झटके में पूरा लंड गांड में डाल दिया, मोटा लंड अंदर गया मुझे लगा किसी ने मोटा रोड गांड में डाल दिया है.

उसने स्पीड बढ़ा दि, मुझे अब मजा आ रहा था. उसके मुंह से आवाज हह अहह हहह अहह औउ ई अहह हहह एस अस अस्सएस अस आहहह आवाज रही थी और मेरे भी, वो लंड बाहर निकलता और एक झटके से अंदर डालता, १५ मिनट गांड मारने के बाद उसकी स्पीड बढ़ गई, २ मिनट बाद वो झड़ने लगा, उसने पूरा लंड  मेरी गांड में दबा दिया. फिर २ मिनट बाद लंड निकाला, मेरी गांड की हालत खराब हो गई थी.

मैं बाथरुम गया, देखा मेरी गांड का होल बहुत बड़ा गया था, दो उंगली आराम से चली जा रही थी, चलते हुए मेरी गांड दुख भी रही थी, फिर हम फ्रेश हुए. उसने कहा पैन किलर ले लेना और कोई पूछे तो बोलना पैर फिसल गया.

उसके एक हफ्ते बाद उसने दो बार गांड मारी, अब इतना दर्द नहीं होता, लेकिन पहली बार जब जाता है तो थोड़ा दर्द होता है, अब मेरी गांड का होल भी बड़ा हो गया है और आराम से उसका लंड चला जाता है, अब मुझे गांड मरवाने में बहुत मजा आता है.

अब मुझे रोज लंड चाहिए लेकिन ऐसा नहीं हो पाता, हफ्ते में एक बार वह मेरी गांड जरूर मारता है, अब मैं थ्री सम, फॉरसम करना चाहता हूं, मैं चाहता हूं कि दो लंड  गांड में और एक मुह में हो. मैंने देखा है दो लंड का मजा ही कुछ अलग होता है..

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone