धीरे से चोदो चिंटू जाग जाएगा!

Click to this video!
loading...

अभी पढने वाले दोस्तों को मेरा नमस्कार. मेरा नाम चिंटू है और मैं यूपी के एक छोटे से विलेज से हूँ. मेरी उम्र 22 साल की हैं. मेरे परिवार में मम्मी पापा और बस मैं हूँ. हमारा खेतीबाड़ी का काम हे. और मेरे पापा किसाम हैं. पापा का नाम अशोक हे और मम्मी का नाम ममता हैं. पापा 40 साल के हे और मम्मी की उम्र 35 साल की हैं. मेरी मम्मी बहुत ही सेक्सी लगती हे. उसके चूतड मोटे मोटे हे और दूध भी स्यूट से बहार आने को रहते हैं. मम्मी का रंग गोरा हैं और वो कद में करीब साडे पांच फीट की हैं.

जवानी से भरपूर यौवन की देवी थी वो. हमेशा वो स्यूट और सलवार पहनती थी और सलवार में उसके चूतड बरसाते थे. हमारी गली के सभी अंकल मेरी मम्मी को लाइन मारते थे. लेरिन मेरे पापा बहुत ही गुस्सेवाले थे इसलिए मम्मी किसी से ज्यादा बात नहीं करती थी.

loading...

हमारे पड़ोस में एक फेमली रहती थी जिनका घर बिलकुल हमारे घर से मिलता था. दोनों घरो के बिच में एक छोटी सी दिवार थी जिसे आसानी से कूदकर आया जा सकता था. उस फेमली में एक अंकल रहते थे जिनकी उम्र 40 साल के करीब थी. वो हमारे घर आते रहते थे क्यूंकि उनके खेत में भी बिलकुल हमारे पास में थे.

loading...

वो मेरी मम्मी से काफी बातें करते थे खासकर जब मेरे पापा घर पर ना हो तब तो बातें और भी लम्बी होती थी.

बात सर्दियों की हैं जब रात में पापा खेत पर गए हुए थे. तो मैं मम्मी के पास सो रहा था. उनकी रजाई में ही. क्यूंकि मैं छोटा था और अकेले सोने में डर लगता था इसलिए मैं मम्मी के साथ में ही सोता था. रात को मेरी आँख खुली तो मुझे मम्मी की पायल बजने की आवाज सुनाई पड़ी.

अब मैं टॉयलेट के लिए उठने ही वाला था की एकदम से मम्मी के मुहं से उईई माँ की आवाज नीकली. मुझे लगा की मम्मी को दर्द हो रहा होगा बदन में शायद इसलिए वो ऐसे कराह रही थी. मैं मम्मी से पूछने ही वाला था की इस बार बेड थोडा सा हिला और मम्मी फिर से कराह पड़ी अह्ह्ह अह्ह्ह मर गई अह्ह्ह अआः उईईइ माँ अह्ह्ह्ह. इस बार मुझे लगा की रजाई में कोई और भी हे और मैं सोचने लगा की कौन हो सकता है. क्यूंकि पापा तो पूरी रात के लिए खेत पर गए थे वो मुझे पता था. मैं सोच ही रहा था की मम्मी फिर से बोली उई अह्ह्ह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह, और जोर से अह्ह्ह अह्ह्ह्ह. तेजी से हलचल हुई और पूरा बेड हिल रहा था.

मैं समझ नहीं पा रहा था की क्या हो रहा हैं. क्यूंकि मैंने पहले ऐसा कभी नहीं सुना और देखा था. मैं सोच ही रहा था की बेड और भी जोर से हिलने लगा और मम्मी की पायल भी बहने लगी. लेकिन इस बार और कोई आवाज नहीं आई. पर थोड़ी देर में मुझे किसी मर्द के बोलने की आवाज सुनाई दी. और मैं सोचने लगा ये पड़ोस के अंकल इस वक्त क्या कर रहे हैं और वो भी मेरी माँ के साथ.

तभी उन्होंने मम्मी से कहा ममता लाईट जला लूँ! मम्मी ने कहा नहीं चिंटू जाग जाएगा ऐसे ही कर लो बस. अंकल ने मुझे तुम्हारा नंगा बदन देखना हैं जानेमन. मम्मी मना कर रही थी तो अंकल ने कहा देखे बिना चोदने में मजा नहीं आता हैं मुझे.  ये सुनकर मैं शॉक हो गया इसका मतलब अंकल मेरी मम्मी की चुदाई कर रहे थे रजाई के अन्दर.

मैं अब थोडा सा मम्मी की तरफ को हो गया और मम्मी से टच हुआ तो मैंने महसूस किया की वो रजाई में पूरी की पूरी नंगी थी. अब मैंने अन्दर देखने के लिए मुहं रजाई के अन्दर किया लेकिन मुझे कुछ दिखाई नहीं दे रहा था. बस एक अलग सी मादक खुसबू आ रही थी.

मैं देखने की पूरी कोशिश कर रहा था बस मुझे रजाई ऊपर निचे होती हुई नजर आ रही थी. तभी मुझे रजाई में पुच पुच और ठप ठप की आवाजें आने लगी थी. मम्मी भी अह्ह्ह अह्ह्ह उईइ अह्ह्ह बहुत बड़ा हैं अह्ह्ह्ह अह्ह्ह करने लगी. और साथ ही में पुच पुच की आवाजें चल रही थी बिच बिच में चूसने और चूमने की आवाजें भी आ रही थी.

अंकल बोले धीरे से बोल ममता चिंटू जाग जाएगा. मम्मी बोली रोज नहीं जागता आज कैसे जागेगा. तो अंकल जोश में आ गए और तेजी से धक्के लगाने लगे और अंकल हर धक्के पर मम्मी की आह निकाल देते थे. तभी अंकल ने कहा मुझे बहुत गर्मी लग रही हैं. और ये कह के उन्होंने रजाई को निकाल दिया.

लेकिन मैंने रजाई से एक होल जैसा बना लिया रुई को हटा के और देखने लगा. मुझे अब थोडा थोडा दिख रहा था. मम्मी अंकल के निचे बिलकुल नंगी लेटी थी और अंकल ऊपर चढ़े हुए थे. थोड़ी देर बाद अंकल और मम्मी अलग हुए और उन्होंने मम्मी को  अब घोड़ी बनने के लिए बोला. और मम्मी के गोल बड़े चूतड मैं मुहं दे दिया फिर उन्होंने. और वो बोले ममता तेरे चूतड की खुसबू मुझे पागल कर देती हे और ये कहकर वो अपनी जबान से मम्मी की गांड को घिसने लगे.

मम्मी तो पागल हो गई अपनी गांड चत्वा के. और वो जोर जोर से आहें भर रही थी अह्ह्ह अह्ह्ह आह्ह्ह ओह्ह्ह अह्ह्ह्ह मर गई में अह्ह्ह्ह अह्ह्ह बस करो अह्ह्ह और नहीं, अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह!

अंकल कुछ देर ऐसा करने के बाद हट गए और अपना लंड मम्मी की गांड के ऊपर फेरने लगे. तो मम्मी बोली ऐसे नहीं जायेगा तो अंकल हँसे और मम्मी के आगे आ गए.

मम्मी ने अंकल का पूरा लंड एक झटके से मुहं में ले लिया और उसे चूसने लगी. अंकल आहें भरने लगे. मम्मी लंड चूसते चूसते एक ऊँगली को अंकल की गांड में डालने लगी. अंकल को भी मजा आ रहा था.कुछ देर ऐसे ही चलने के बाद अंकल फिर से मम्मी के पीछे आ गए और लंड को मम्मी की गांड में डालने लगे.

मम्मी ने भी अपनी गांड को दोनों हाथो से फैला दिया. और बोली अब जल्दी करो बस तो अंकल ने धीरे से गांड के छेद पर लंड लगाया और धक्का देने लगे तो मम्मी चीख पड़ी, अह्ह्ह अह्ह्ह माँ बहुत दर्द हो रहा हैं. पर अंकल के लंड का सुपाडा अन्दर जा चूका था और अंकल को बहुत मज़ा आ रहा था. इसलिए उन्होंने एक धक्का और लगाया तो मामी उह्ह्ह उह्ह्ह करने लगी. क्यूंकि वो चिल्ला भी नहीं सकती थी मेरे उठने से डर के लिए.

और इस बार अंकल ने जोर का झटका मारा और लोडा पूरा अन्दर घुसा डाला.  इस बार मम्मी ने अपनी चीख रोकने की पूरी कोशिश की लेकिन वो रोक नहीं पाई और अह्ह्ह्हह मर गइ उसके मुहं से निकल गया.  पर अंकल किसी भी चीज से कहा रुकने वाला था. वो अपने धक्को की स्पीड को बढाता ही गया और मेरी सेक्सी माँ की गांड मारता गया.

थोड़ी देर ऐसे ही धक्के मारने के बाद अब मम्मी का भी दर्द कम हो गया था और वो बस अह्ह्ह अह्ह्हअह्ह्ह आह कर के गांड मरवा रही थी. अंकल अपने लंड को आगे पीछे कर के गांड को पेलते गए. अब दोनों को चुदाई का पूरा मज़ा आ रहा था. ऐसे ही चुदाई चलती गई कुछ देर और. और अब अंकल मम्मी की गांड को पकड़ कर मसलने लगे और अह्ह्हआह अह्ह्ह करने लगे और जोर जोर से धक्के लगाने के बाद वो हट गए.

मम्मी भी अब खड़ी हो गई और अंकल से लिपट गई. थोड़ी देर ऐसे ही रहने के बाद दोनों अलग हुए और अंकल ने मम्मी की सलवार से अपने लौड़े को साफ़ किया और कपडे पहनने लगे. फिर अंकल वही बेड के ऊपर बैठ गए. और मम्मी से बाते करने लगे.

उन्होंने मम्मी को पूछा अब अगली बार मौका कर मिलेगा तो मम्मी बोली जब तुम्हारा मन करे और वो हंसने लगी. अंकल ने कहा कैसे तो वो बोली कल मैं खेत में जाउंगी उनका खाना लेकर क्यूंकि वो पूरी रात से वही हे तो क्यूँ ना कल खेत में भी थोड़ी चुदाई हो जाए!

इस पर अंकल खुश हुए लेकिन फिर उदास होते हुए बोले वहां तो मनोज होगा फिर कैसे करेंगे? तो मम्मी बोली ते तो तुम्हे देखना हैं की कैसे तुम उसकी बीवीको चोदोगे!

अंकल खड़े हुए और बोले, चलो मैं चलता हूँ रवीना को भी चोदना पड़ेगा आज टी थोडा बहुत. जब से तुम मिली हो उसे पहले जैसा नहीं चोदता हूँ इसलिए उसे डाउट होता हैं. मम्मी ने अंकल को लिप किस दिया और उन्हें चोदने के लिए बहार गई. मैंने लंड पर हाथ लगाया तो वो काफी टाईट हो गया था उस वक्त.

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone