गर्लफ्रेंड के साथ ग्रुपसेक्स

Click to this video!
loading...

हेलो दोस्तों मेरा नाम राज है, मैं लखनऊ का रहने वाला हूं. मैं दिखने में हैंडसम हूं और मेरा लंड मोटा है जो किसी भी लड़की को खुश कर सकता है. और आज मैं अपनी गर्लफ्रेंड की जबरदस्त चूदाई की कहानी सुनाने जा रहा हूं, मेरी गर्लफ्रेंड का नाम आफरीन है, वह दिखने में बहुत खूबसूरत है उसको देख कर किसी का भी उसे चोदने का मन करेगा. उसका फिगर ३४-३०-३६ है, उसकी बड़ी गांड को सारी दुनिया चोदना चाहती है.

अब मैं कहानी पर आता हूं..

loading...

यह बात तब की है जब मैं मेडिकल कॉलेज में था एमबीबीएस कर रहा था, मेरी गर्लफ्रेंड और मैं एक ही कॉलेज में थे और हम दोनों पहले भी कई बार सेक्स कर चुके थे, पर वह मुझसे कई बार कह चुकी थी कि तुम मेरी गर्मी नहीं खत्म कर पाते हो, मुझे कुछ अलग करना है.

loading...

फिर मैंने उसे कई बार ग्रुप सेक्स के लिए मनाने की कोशिश की, पर वह मना कर देती थी. फिर मैंने एक दिन दारु पी के चूदाई की और चूदाई करते टाइम जब मैंने उसे इस बारे में पूछा तो वह जोश में हां बोल दी, फिर अगले दिन सुबह यह पूछा तो उसने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है, मेरे मुंह से गलती से निकल गया होगा, और मुझे ऐसा कुछ नहीं करना है..

मैंने उसकी ग्रुप सेक्स का प्लान बनाया और एक रात मैंने उसे कहा आज हम दारु पिएंगे.. पहले तो उसने मना कर दिया पर मेरे फ़ोर्स करने पर मान गई फिर मैं एक बोतल लाया और पैग बनाना शुरु कर दिया.

फिर मैंने उसे अपने हाथों से पहला पेग पिला दिया और फिर हमने खाना खाया और मैंने अपने तीन दोस्तों को फोन करके बोल दिया कि जब मैं बुलाऊंगा तो तुरंत घर आ जना, उन्होंने पूछा आखिर क्या बात है? मैंने कहा कुछ सरप्राइज है तुम लोगों के लिए..

फिर हम दोनों ने आठ आठ पैग लगा दिए, मुझे तो आदत थी इसलिए मुझे कुछ नहीं हुआ, पर अब वह बिल्कुल होश में नहीं थी. उसको बहुत ज्यादा नशा चढ़ गया था और मैंने उसके ड्रिंक में सेक्स वाले नशे की गोली भी मिला दी थी, तो उसे सेक्स का जोश भी आ रहा था..

तब मैं उसे किस करने लगा, वह मदहोश हुए जा रही थी. फिर मैंने उसकी गर्दन पर किस किया. अब वह पागलों की तरह मचलने लगी, तब मैंने उसके कपड़े उतारना शुरू कर दिया. फिर मैंने उसके बूब्स प्रेस करने लगा, और उसके चुचियों को नोच रहा था. और उसको बहुत मजा आने लगा था. फिर मैंने उसकी ब्रा और पैंटी भी उतार दी. अब वह मेरे सामने बिल्कुल नंगी पड़ी थी.

पर मेरे दिमाग में तो बस इस को चार लंड से चोदने का भूत सवार था. मैंने उसकी चूत को अपने हाथ से सहलाने लगा अब उसे और जोश आने लगा, फिर मैंने उसके दूध को पीना शुरू कर दिया. अब वह पागलों की तरह मचलने लगी.

तब मैंने उसकी पूरी बॉडी पर किस करने लगा और धीरे-धीरे उसकी चूत की तरफ बढ़ने लगा उसके चूत में अपनी जीभ रख के उसे चाटने लगा, अब उसे भी बहुत ज्यादा जोश आ रहा था. वह आवाजे निकलने लगी, फक मी अह आयी हु उय ययस यय्स्य ईस  बेबी. उसे बर्दाश्त नहीं हुआ, उसे रहा नहीं गया. वह तुरंत उठी और मेरे पेंट को खोला और उसने में मेरा लंड बाहर निकाल दिया और अपने मुंह में लेकर चूसने लगी..

लगभग १५ मिनट तक ऐसा ही मेरे लंड को हिला हिला कर चाटती रही, फिर उसने मेरे लंड का सारा पानी निकालकर अपने मुंह में लिया और पी गई. अब मैंने उसके चूत को चाटकर उसे और जोश दिलाने लगा, उसकी चूत के अंदर अपनी जीभ डाल के चूत चाट रहा था, मैं उसको किस करने लगा.

फिर मैंने एक जोरदार झटके के साथ पूरा लंड अंदर डाल दिया. उसने बहुत जोर से चिल्लाया औउ हां उऔ माँआआआ मर गई, आराम से चोद.. मेरी चूत कहां भागी जा रही है? पर मैंने उसकी एक न सुनी उसकी चूत में अपना लंड डाल कर अंदर बाहर करने लगा, क्योंकि वह नशे में थी तो वह मुझे रोक नहीं पा रही थी.

पर कुछ देर बाद उसे मजा आने लगा और अब जोर जोर से आवाज निकालने लगी आयी हहह उऔ यस ह्श्स य्य्स यस्स होह्ह ऊ हां  आज मेरी चूत फाड़ दो. फिर मैंने उसे पूछा कि क्या मैं तुम्हारी चूत की गर्मी मिटा पाता हूं?

उसने कहा पूरा नहीं. फिर मैंने कहा आज मौका है उसकी चूत और गांड और मुंह एक साथ चोदने का. मैंने उसे पूछा कि तुम्हारी गांड चूत और मुंह की चूदाई एक साथ करा दूं वह भी चार चार लंड से? वह नशे में थी

इसीलिए वह नशे में बोली हां.. मुझे आज अपनी रंडी बनाकर चोदा.. आज मुझे रंडी की तरह चूदाई करनी है. मुझे अपने कानों पर भरोसा नहीं हो रहा था, फिर मैंने खुशी के मारे उसकी चूत और जल्दी-जल्दी चोदना शुरू किया. अपने ३ दोस्तों को फोन किया बोला आज मैं दुनिया की सबसे अच्छी चीज़ दूंगा तुम सबको.. जल्दी मेरे घर आ जाओ.

यह सुनकर वह तुरंत मेरे घर आ गए. मैंने जानबूझकर गेट खुला छोड़ दिया था, अब वह तीन अंदर आ गए उन तीनों को देखकर अफरीन पूछने लगी यह कौन है? मैंने कहा यह मेरे दोस्त हे, आज हम सब मिलकर तुम्हारी चूदाई करेंगे और तुम्हारी चूत की गर्मी को शांत करेंगे. वह नशे में थी इसलिए उसे कुछ समझ नहीं आ रहा था फिर उसने कहा कैसे?

मैंने कहा थोड़ा इंतजार करो और तीनो का नंगी लड़की देखते ही लंड खड़ा हो गया और मुझे पूछने लगे आज क्या कमाल करने वाला है तू भाई? अब मैंने उनको कहा तुम सब अपने कपड़े उतार के पास आ जाओ. वह नंगे होकर आ गए, तीनों अपने लंड को सहलाने लगे, अब उनको समझ आ गया था. तब एक ने अपना लंड उसके मुंह में दे दिया वह ले नहीं रही थी.

फिर उसके हाथ पकड़ कर डाल दिया बाकी दोनों ने अपना लंड उसके हाथ में पकड़ा दिया और वह सहलाने लगी. लगभग २५ मिनट बाद में जड़ गया, सारा माल अंदर ही छोड़ दिया. फिर मैंने अपने एक दोस्त को बोला अब उसकी चूत चाटकर साफ कर फिर चुदाई  करेंगे इस रंडी को, उसने ऐसे ही किया.

फिर मैं अपना लंड उसके मुंह में डालकर चुसाने लगा, मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. अब मैंने उसकी गांड के छेद पर थोड़ा सा तेल लगाया और बाकी तिन को अपने लंड पर तेल लगाने को कहा, हम चार का लंड एकदम से खड़ा हो चुका था यह सब देखकर आफरीन पागल हो गई थी.

फिर मैंने उसकी गांड पर अपना लंड रखा और धीरे-धीरे धक्का देने लगा और वह चिल्ला रही थी, नशे में होने के बाद भी उसे बहुत दर्द हो रहा था. फिर मैंने श्याम को कहा कि अपना लंड इस रंडी के मुंह में डाल दो.

फिर मैंने एक जोरदार झटका मारा, मेरा लंड अंदर घुस गया उसे बहुत दर्द हो रहा था. फिर मैंने एक जोर का झटका मारा और पूरा लंड अंदर डाल दिया, अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा था, उसकी आंखों से आंसू निकल रहे थे. पर मैं नशे में था इसलिए बिना रुके अपना लंड बंदर बाहर करने लगा, अब उसे मजा आने लगा था.

फिर मैंने रमेश को कहा कि अब तू इस रंडी की चूत मार उसका लंड बहुत मोटा था उसने अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया, अब आफरीन को बहुत मजा आ रहा था. वह चुदाई के मजे लेने लगी और अपने हाथ एक से लंड ले कर मुठ मारने लगी. अब वह पूरे जोश में थी और नशे में.. अब हमने अपनी पोजीशन चेंज करी और मैं उसके मुंह को चोदने लगा और शाम उसकी चूत मारने लगा और राजू को उसकी चूत मारने का मौका मिला..

फिर शाम ने उसकी गांड मारी और फिर रमेश ने.. जैसे ही हम सब ने सब सेक्स की परी की चूत और गांड की चूदाई की ऐसे करके उस रात पूरी रात उसकी चूत चोदी, वह सुबह उठी तो देखा कि चार नंगे उसके बगल में सोए हैं. फिर से उसे जोश आ गया वह हमारा बारी बारी से चूसने लगी.

फिर हमने एक बार फिर चोदा और उसके बाद जो उसने कहा वह सुनकर मैं शॉक हो गया. उसने कहा कि मुझे चार लंड से चूदने का मन बहुत पहले से था, बोलने में शर्म आती थी. अब तो सबको पता ही है तो मैं चाहती हूं तुम चार मिलकर मेरी चूदाई रोज रात को किया करो. फिर से सब का लंड चूसने के बाद बाय बोला और फिर सब अपने अपने घर चले गए..

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone