बेस्ट फ्रेंड की प्यासी बीवी को चोदा


Click to Download this video!
loading...

दोस्तों मेरा नाम संतोष हैं और मैं एक प्राइवेट कम्पनी में काम करता हूँ. मेरे एक दोस्त का नाम नितिन हैं जो मेरा बेस्ट फ्रेंड हैं. हम दोनों बचपन से ही दोस्त हैं. हम कोलेज के दिनो में एक ही कमरे में रहते थे. हम दोनों को एक दुसरे के बारे में सब कुछ पता था, अफेयर, निजी बातें वगेरह सब कुछ!

क्यूंकि हम अच्छे दोस्त थे इसलिए हमने एक ही बिल्डिंग में एक ही फ्लोर के ऊपर फ्लेट लिए थे. और फिर हम दोनों ने शादी के लिए लडकियां देखनी भी चालु कर दी. और एक इन हम दोनों एक लड़की को देखने के लिए गए. दर्जनों लड़कियां देखने के बाद नितिन को एक सुन्दर लड़की शीतल पसंद आ गई. शीतल बड़ी ही सुन्दर और परफेक्ट लड़की थी. नितिन और शीतल की 2015 में शादी हो गई. और मैं अभी भी लड़की ढूंढने में लगा हुआ था.

loading...

क्यूंकि नितिन मेरा बेस्ट फ्रेंड था इसलिए मैं अक्सर उसके घर पर जाता था. हम दोनों जिस प्राइवेट कम्पनी में काम करते थे उसमे शिफ्ट जॉब थी. कभी हम दोनों एक ही शिफ्ट में होते थे तो कभी अलग अलग. शीतल भाभी एकदम गोरी हैं और उनकी बॉडी एकदम सेक्सी हैं. उनकी हाईट साड़े पांच फिट हैं और वो एक परफेक्ट वाइफ हैं. वो कम बोलती हैं और शालीनता से बात करती हैं. वो जब साडी पहनती हैं तो एकदम हॉट लगती हैं. और ऐसे में मैं अपनी आँखे उसके ऊपर से हटा ही नहीं पाता हूँ.

loading...

नितिन हनिमुम के लिए एक वीक के लिए शिमला गया था. जब वो वापस आये तो उसने सब फोटो मेरे साथ शेयर किये. मैं उसकी बीवी को देख के अन्दर ही अन्दर जल सा रहा था. शीतल भाभी मेरे साथ भी बड़ी कम्फर्टेबल थी क्यूंकि मैं फेमली फ्रेंड था. जब भी मुझे बोर लगता मैं नितिन के घर चला जाता, वो घर पर हो या ना हो. और कभी कभी तो मैं शीतल भाभी के साथ घंटो बातें किया करता था. जब भी शीतल भाभी से मिलता था तो मुझे अच्छा लगता था.

एक बार हम सब ने वेकेशन के लिए गोवा जाने का डिसाइड किया. हम लोगों ने बिच से सटे हुए एक होटल में दो रूम लिए. नितिन और शीतल एक रूम में थे और मैं उनके सामने वाले रूम में. दोनों रूम की बालकनी एक दुसरे के सामने थी. मेरी बालकनी से रूम का बेड भी दीखता था. हम लोग कमरे में रेस्ट कर रहे थे. शाम को 4 बजे साइटसिन के लिए निकलन तय हुआ था. मैं थका हुआ था इसलिए सोने के लिए चला गया.

4 बजे नितिन और शीतल निचे रिसेप्शन के ऊपर आ गए. नितिन ने शीतल को बताया की वो टेक्सी अरेंज करेगा. और उसने कहा की तब तक तुम जा के देखो की संतोष रेडी हुआ की नहीं. इसलिए शीतल ने मेरे कमरे में आ के मुझे आवाज दी.

मैं बहुत थका हुआ था और अंडरवियर पहन के ही सोया हुआ था. उसने कमरे में आ के चद्दर खिंची और उसने मुझे सिर्फ अंडरवियर में देख लिया. मेरा लंड नींद में ही खड़ा हुआ था और उसकी लम्बी साइज़ शीतल भाभी ने देख ली. मेरा लंड पुरे 7.5 इंच का हैं और मुझे ये पता था की नितिन का लंड काफी छोटा हैं करीब 4 इंच का. वो सरप्राइज के साथ मेरे कडक लंड को अंडरवियर में देख रही थी. और मैंने उसके चहरे के ऊपर एक अजीब सी स्माइल और प्यास देखि. मैंने आँखे खोली तो उसने कहा, हम लोग आप का निचे लोबी में वेट कर रहे हैं. मैं उठ गया और फिर रेडी हो के हम लोग बिच के ऊपर चले गए.

बिच के ऊपर हमने मोटरबोट में बैठने का फैसला किया. लेकिन नितिन को डर लग रहा था इसलिए उसने कहा की मैं नहीं बैठूँगा. शीतल भाभी थोड़ी अपसेट हो गई ये सुन के. उसे अन्दर जाना था मोटरबोट मैं बैठ के. इसलिए नितिन ने शीतल को कहा की तुम अकेली ही चली जाओ जाना हैं तो. लेकिन वो अकेली जाने से डर रही थी. नितिन ने कहा तुम एक काम करो तुम संतोष के साथ चली जाओ. और उसने मुझे रिक्वेस्ट किया शीतल के साथ जाने के लिए.

तो मैं और शीतल राइड के लिए चले गए. बोट 2 सिटर थी और पीछे वाले को आगे वाले को पकड के बैठना था. मैं शीतल के पीछे बैठा हुआ था. उसने ब्लू जींस और ब्राउन टॉप पहना हुआ था. जब बोट चली तो वो मेरी गोदी में बैठ गई. मैंने भी उसकी कमर को पकड़ लिया. मेरा लंड पूरा खड़ा हो के उसे टच हो रहा था. उसकी गांड मेरे लंड से लड़ रही थी और मैं एकदम एक्साइट हो रहा था!

उसे भी मेरे लंड का स्पर्श और अहसास हुआ. और उसने और पीछे हो के और भी अंदर तक लंड को फिल कर लिया. मैं समझ गया की ये तो टेम्पररी मजा था और इस बोट से उतरने पर ये मजा भी चला जाएगा. नितिन को इसके बारे में कुछ भी पता नहीं था. वो तो बिच की खूबसूरती को अपने केमेरा में उतार रहा था.उस दिन हमने बिच पर खूब मजे किये. अलग अलग वैरायटी का खाना खाया, सी गेम्स खेले. शाम को 7 बजे हम लोग होटल पर आ गए. 9 बजे के करीब होटल में ही बुफे डिनर लिया. फिर कार्ड और केरम बोर्ड की गेम्स खेली.

शीतल ने मस्त रेड साडी पहनी हुई थी. मैं तो उसकी खूबसूरती में जैसे खो ही चूका था. साडी के अन्दर उसका क्लीवेज दिख रहा था. उसके सेक्सी होंठ, सुनर आँखे और भी चमक रही थी आज तो. और फिर कुछ डर में हम अपने अपने रूम में सोने के लिए चले गए.

लेकिन रूम में जाने के बाद भी मुझे नींद नहीं आ रही थी. मैं शीतल के बारे में सोच रहा था. मैं शीतल के सेक्सी बदन के बारे में ही सोच रहा था. नींद तो आ नहीं रही थी तो मैं बालकनी में जा खड़ा हुआ. और नितिन के कमरे के परदे खुले हुए थे. वो दोनों रोमांटिक मूड में थे लेकिन परदे खींचना भूल गए थे. और कमरे की लाईट भी अभी जली हुई थी.

नितिन ने शीतल को किस करना चालू कर दिया. और वो उसके बूब्स भी दबा रहा था. शीतल भी एकदम हॉट हो गई थी और वो नितिन को अपनी तरफ खिंच रही थी. नितिन ने शीतल की साडी और ब्लाउज को उतार दिया. ओह माय गॉड, पहली बार मैं शीतल को ब्रा और पेंटी में देख रहा था. वो इतनी खुबसुरत थी की कोई भी इस सुन्दरता के लिए अपनी जान दे सकता था. और फिर शीतल ने नितिन की पेंट और अंडरवियर को निकाल दिया. वो नितिन के लंड को देख के थोड़ी नर्वस सी हो गई क्यूंकि वो छोटा जो था. शीतल ने लंड को मुहं में भर लिया और चूसने लगी.

सच में बड़ा सेक्सी सिन था, मैंने कभी नहीं सोचा था की शीतल इतनी होर्नी और रोमांटिक हैं. वो किसी पोर्नस्टार के जैसे लंड को चाट रही थी और चूस रही थी. नितिन इस ब्लोव्जोब की वजह से एकदम उत्साहित नहीं लग रहा था.. उसका चहरा उतना खुश नहीं था. शायद उसे ब्लोव्जोब पसंद नहीं था, अजीब बात थी!

नितिन ने शीतल की ब्रा उतार दी और उसके बूब्स बड़े ही सेक्सी लग रहे थे, छोटे लेकिन एकदम सेक्सी. नितिन उन्हें चूसने लगा और शीतल मोअन कर रही थी, अह्ह्ह अह्ह्ह्ह ओह्ह्ह्ह! क्या लवली सिन था. और फिर नितिन शीतल को ऊपर चढ़ के मिशनरी पोज़ में चोदने लगा. मेरा लंड भी एकदम कडक हो गया था और सिचुएशन मेरे कंट्रोल से बहार थी.

एक दो शॉट में ही नितिन के लंड का पानी निकल गया और वो रुक गया. शीतल के चहरे पर से ही लग रहा था की उसे और जरुर थी सेक्स की. लेकिन मैं ये भी जानता था की नितिन उसे वो नहीं दे सकता था. शीतल को और सेक्स की जरूरत थी वो भी बुरी तरह से.

इसलिए शीतल ने खुद ही अपनी चूत में ऊँगली डाल दी और उसे अन्दर बहार करने लगी. मैं सोच रहा था की काश मैं नितिन की जगह पर होता. मैं होता तो मैं शीतल को पूरी रात को चोदता. वो चुदने के लिए ही बनी थी. इतनी हॉट औरत को मैंने अपनी पूरी लाइफ में नहीं देखा था. ये बड़े ही दुःख की बात थी की मेरा दोस्त इतनी सेक्सी आइटम को खुश नहीं कर पा रहा था. शीतल भी एकदम दुखी लग रही थी. मैंने उसकी आँखों में आंसू देखे. वो नितिन को कहने लगी की अगर तुम मुझे खुश ही नहीं कर सकते फिर तुमने मेरे से शादी ही क्यूँ की! नितिन भी दुखी तो था लेकिन वो कुछ भी नहीं कर सकता था क्यूंकि ये तो शरीर की प्रॉब्लम थी जिसके ऊपर उसका कंट्रोल नहीं था.

और अचानक आंसू भरी आँखों से शीतल ने बहार देखा. मुझे उन दोनों के ऐसे देख के वो चौंक गई. उसने उठ के परदे खिंच लिए और लाईट भी बंद कर दी. उस रात को मुझे नींद आ ही न सकी. मैं शीतल के बारे में ही सोचता रहा, और शायद वो मेरे बारे में.

अगले दिन मोर्निंग में जब हम लोग ब्रेकफास्ट कर रहे थे तो नितिन ने कहा की मेरी तबियत ठीक नहीं हैं. उसने मुझे और शीतल को कहा की तुम दोनों चले जाओ साइटसीइंग के लिए. हम दोनों उसके लिए रेडी नहीं थे लेकिन नितिन ने इंसिस्ट किया इसलिए हम मान गए. मैंने सोचा की शीतल दुखी हैं तो उसका आज का दिन यादगार बना दूंगा. मैंने निचे से एक बाइक हाइर की दूर के एक बिच पर जाने के लिए. आज शीतल ने सफ़ेद टॉप और ब्लेक जींस पहनी हुई थी. वो एकदम हॉट लग रही थी. पहले हम दोनों शिप पर गए. मैंने उसे डांस के लिए इनवाइट किया. पहले तो वो कम्फर्टेबल नहीं थी लेकिन धीरे धीरे उसे भी अच्छा लगने लगा था. वो मेरे साथ डांस करने लगी. वो अच्छी डांसर थी. हमें अच्छा डांस करने के लिए बेस्ट कपल डांस का पुरस्कार भी मिला उस शिप वालों से.

फिर मैं और शीतल एक रेस्टोरेंट पर चले गए. हमने इटालीयन खाना खाया जो उसने बहुत पसंद किया. फिर हम बिच पर गए और खूब एन्जॉय किया. हम दोनों भीग चुके थे तो शीतल ने कहा मैं शावर ले के ड्रेस चेंज करना चाहती हूँ. लेकिन उतने में कोई चेंज रूम नहीं था. तो हम लोग बिच के रस्ते पर एक होटल में चले गए.

शीतल फटाक से बाथ ले के आई. और फिर मैं बाथरूम में चला गया. जब मैं बात ले के बहार आया तो शीतल ने अभी तक ड्रेस नहीं बदला था. उसने रेड पेंटी पहनी हुई थी और मेरी उलटी साइड में खड़ी हो के ब्रा पहन रही थी. मैं उसे पीछे से न्यूड देख के खुश हो गया. मैंने अपनी लाइफ में इतनी सेक्सी कर्व्स वाली लेडी नहीं देखी थी. उसने मुझे देख लिया और अपने बदन को छिपाने की कोशिश करने लगी. लेकिन वो ऐसा नहीं कर सकी!

मैं उसकी सुन्दरता से अपनी आँखों को नहीं हटा सका. और उसके पीछे जा के मैंने उसे पकड़ लिया. वो बोली, संतोष नहीं प्लीज़, रुको. ये सही नहीं हैं. मैं तुम्हारे बेस्ट फ्रेंड की वाइफ हूँ. रुको प्लीज़.

लेकिन मैंने उसकी एक बात नहीं सुनी और उसकी बॉडी को किस करने लगा, उसके गले पर, हाथो पर, कंधे पर. वो अभी भी ऐसा दिखा रही थी की वो ये नहीं चाहती थी. लेकिन मैं जानता था की वो सब कुछ करना चाहती थी मेरे साथ. मैं उसे किस करता रहा वही तीव्रता से. मैंने उसके लिप्स को किस किया, ओह्ह्ह!

फिर मैंने उसे दिवार के पास खड़ा कर दिया और उसके बूब्स को चूसने लगा. वो जोर जोर से मोअन कर रही थी. अब मैं शीतल को बिस्तर पर ले गया. अब वो अग्रेसिव और वाइल्ड होने लगी थी. उसने मेरे अंडरवियर को खोला. और मेरे लंड को देखते ही उसे अपने हाथ में ले के उसने कहा ये तो बहुत बड़ा हैं और मैंने अपनी लाइफ में इतना बड़ा लंड कभी भी नहीं लिया हैं. मैंने पूछा, अपने मुहं में लोगी उसको? उसने कहा जरुर मुझे तो मुहं में लेना पसंद हैं. और वो चोकोबार कैंडी के जैसे मेरे लंड को चूसने लगी. वो मस्त सकर थी और बड़े से लंड को पूरा मुहं में डाल के सक कर रही थी. और शीतल को भी चूसने में मज़ा आ रहा था.

फिर मैंने उसे बिस्तर में डाल के उसकी चूत को चाटना चालू कर दिया. नितिन ने कभी भी उसकी चूत को नहीं चाटा था, ये बताते हुए शीतल ने सिसकियाँ भर ली. वो बोली, ओह संतोष वाऊ क्या मजा आ रहा हैं, अब जल्दी चाटना बंद करो और मेरी चूत में अपने लंड को डाल दो, मैंने बहुत टाइम से संतुष्ठ नहीं हुई हूँ. तुम्हारे दोस्त में वो बात नहीं हैं.

और मैंने अपने लंड को उसकी चूत में डाल दिया और फक फक चोदने लगा उसको. वो जोर जोर से मोअन कर रही थी. मैंने उसे कम से कम एक घंटे तब दबा के चोदा. और इसमें वो मेरे लंड के ऊपर सवार भी हुई थी. आज उसकी चूत को जो शांति मिली थी ऐसी शांति उसे कभी नहीं मिली थी. वो बोली आज जो सुख मिला हैं वो कभी नहीं मिला हैं. उसने मुझे आई लव यु कहा और बोली काश नितिन की जगह पर तुम मेरे पति होते. तुम सच में असली मर्द हो.

फिर मैंने उसे उठा लिया और उसे अपनी जांघो के ऊपर बिठा दिया और फिर से मैंने उसकी बॉडी को चाट दिया. और फिर उसकी चूत को भी लिक कर दिया. शीतल ने भी फिर से मेरे लंड को एक बार चूसा. और हम साथ में सो गए आधे घंटे के लिए. वो काफी खुश और सटीसफाई थी. हमने फिर अपने कपडे पहन लिए और हमारी होटल पर गए जहाँ पर नितिन हमारी राह देख रहा था.

नितिन ने शीतल को पूछा तो दिन कैसा रहा?

शीतल ने कहा, बड़ा मस्त था.

हमारे होलीडे खत्म कर के हम होमटाउन आ गए.

आज भी मैं जब मौका मिले तब शीतल के घर चला जाता हूँ. इन फेक्ट जब सेक्स का मौका हो तो शीतल सामने से ही मुझे कॉल कर देती हैं. जब नितिन की सेकंड शिफ्ट हो तो मैं दिन भर उसके घर में रह के शीतल को चोदता हूँ.

अभी भी मेरी शादी नहीं हुई हैं. और शीतल की कूख से मेरा एक बच्चा भी हुआ हैं. नितिन भी खुश हैं क्यूंकि वो बाप बन चूका हैं. और शीतल भी अब उसके साथ सेक्स को ले एक लडती नहीं हैं. शीतल अपनी लाइफ में डबल रोल अदा कर रही हैं. नितिन के लिए वो एक सीधीसादी आदर्श वाइफ हैं और मेरे लिए वो रखेल हैं. अभी हमारे रिलेशन को ऑलमोस्ट 2 साल हो चुके हैं. मैंने शादी नहीं की हैं क्यूंकि मैं उलझन में हूँ की क्या करू!!!

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone


desi randi ki chudai kahanidesi family sex storieshindi sambhog kathasexkikahanipadosan ko choda sex storysex read hindipati ke dosto ne chodamanju bhabhi ki chudaikhala ki chudai storysasur ka mota lundantaevasna commausi ko choda storymaa chudi uncle seholi hindi sex storymami sexy storymaa bete chudai ki kahanikachrewali ki chudaifucking stories in hindi fontgand mari teacher kihindi family chudai kahanimama bhanji ki chudai storyaunty ko pata ke chodasagi khala ko chodasunita ko chodasex story bhabi ko chodachut ka darshanapni maa ki chudai storybap beti hindi sex storymaa aur mausi ki chudaipolice wale ne gand maripadosan aunty ki chudaisasur ne bahu ki chudai ki kahanibest sex story in hindiesha ki chudaianrarvasna comhindi chudai ke jokesmama bhanji ki chudai ki kahanihindi sex story in hindiafrican lund se chudaisaas ki chudai kahanisex stories latest hindianu ko chodachudai sasur sesex stories hindi indiamom ko uncle ne chodahindi sex story relationmummy ki saheli ki chudaikhala chudaibehan ka gangbangdamad ki chudaididi ko patayamausi sex storyhindi latest sex storyfucking stories in hindi fontsexy kahani mamibeti baap ki chudai ki kahaniiss story in hindikunwari teacher ki chudaifree porn stories in hindixxx hindi sex storysaas ki chudai hindi storyjija sali sexy story in hindisexy hindi latest storieschudai ke chutkule hindi mebudiya ki chudaimazdoor ki chudaifree hindi sexi storysasur bahu ki chudai storyjija sali ki chudai kahani hindichut ka dhakkanhindi sex story momchudai ki kahani larki ki zubanisasur ne mujhe chodasex story hindi onlinecrossdressing stories in hindisali ki kuwari chutsex stories for reading in hindisexstoryinhindimom ko uncle ne chodahide sex storypadosi bhabhi ki chudai kahanirajai me chudainew sex hindi storyvidhwa aunty ki chudaimaa ki chudai story in hindisex stories to read in hindigf chudai kahanitrain me chudai hindi storysex story hindi latestchudai ki kahani larki ki zubani