दोस्त की बीबी 3 मर्दों से एक साथ चुदी


Click to Download this video!
loading...

मेरा नाम विराज है। जालौन (यू पी) का रहने वाला हूँ। मैं अभी कुवारा हूँ। मुझे सेक्स करने बेहद पसंद है। मैंने अपने दोस्तों की बीवियों को पटाकर चोद लेता हूँ। इसी तरह मैं चूत का जुगाड़ कर लेता हूँ। मेरी 2 गर्लफ्रेंड भी है—रिद्धि और सिद्धि। दोनों सगी बहने है। दोनों को मैं एक साथ चोदता हूँ। उसको कोई आपति नही होती है और मेरे लंड को चूस चूसकर चुदाती है।
1 महीने पहले की बात है मेरा दोस्त मुन्ना अपनी बीबी की सामूहिक चुदाई करना चाहता था। मुन्ना मेरे छुटपन का दोस्त था और बहुत सेक्सी आदमी था। वो मीठा भी था और अपनी गांड हम दोस्तों से मराया करता था। जब उसकी बीबी नई नई शादी होकर आई थी तो मैंने कहा था की अपनी बीबी की चूत दिलवा दे। मुन्ना ने मुझसे वादा किया था की एक दिन वो मुझे जरुर अपनी बीबी की चूत दिलवा देगा। आज उसने मुझे सुबह सुबह की काल किया।
“देखा विराज!! मैं चाहता हूँ की आज तू मेरी बीबी को चोदे। असल में मैं उसकी सामूहिक चुदाई करना चाहता हूँ। अपना दोस्त बलदेव भी आ रहा है” मुन्ना बोला
उसकी बात सुनकर मैं फूले न समाया। आपको बता दूँ की मुन्ना की वाईफ सुलू बहुत मस्त माल थी। काफी सेक्सी औरत थी और रात में नंगी होकर खूब चुदाती थी। सुलू शादी से पहले ही कई बॉयफ्रेंड से चुद चुकी थी। बिना लंड खाए उसका काम ही नही चलता था। वो आम भारतीय बीवियों की तरह नही थी जो किसी मर्द से बात करने में शर्म करती है। सुलू खुले दिमाग की लड़की थी। जब मुन्ना से सुलू की शादी होने वाली थी वो मुन्ना से उससे पूछा था की क्या उसका कोई बॉयफ्रेड है। सुलू ने उसे साफ़ साफ बोल दिया था की उसके 5 बॉयफ्रेंड से जो उसकी रोज चुदाई करते थे।

सुलू से कहा था की उसकी चुदने की प्यास बहुत जादा है। अगर मुन्ना उससे शादी करे तो रोज रात में कम से कम 2- 3 बार उसकी चूत बजाए। मुन्ना को सुलू का सेक्सी रूप बहुत पसंद आया था। उसने तुरंत सुलू से शादी कर ली थी।
रात हो गयी। मैंने अपनी हाथ घड़ी में देखा तो ठीक 9 बजे थे। मुन्ना की मिस्काल आ गयी। मैं उसके घर चला गया। फिर हम दोनों का दोस्त बलदेव भी आ गया। कुछ देर में सुलू हम तीनो के पास आकर बैठ गयी। दोस्तों वो कयामत लग रही थी। गोल्डन कलर के चमकदार कपड़े का उसने ब्लाउस पहना हुआ था जो आगे से काफी गहरा था। सुलू की मस्त मस्त छातियाँ उसमे साफ साफ दिख रही थी। मैं और बलदेव दोनों मुन्ना की बीबी सुलू की जवानी देखकर मस्त हो गये। मैं भी हंसने लगा और बलदेव बी हंसने लगा।
सुलू हम दोनों को देखकर मुस्कुरा दी।
“नमस्ते जी!!” वो मेरी और बलदेव की तरफ देखकर बोली
“अरे भाभी!! आज तो कयामत दिख रही हो” मैंने और बलदेव ने एक साथ कहा
“आज आप तीनो की सेवा एक साथ करूंगी” सुलू सनी लिओन की तरह मचलकर बोली
“कैसी लगी मेरी बीबी??” मुन्ना से हम दोनों से पूछा
“भाई लंड खड़ा हो गया” हम दोनों बोले
सुलू से नेट वाली साड़ी पहनी थी जिसमे उसके भरे हुए जिस्म के अंग साफ़ साफ़ दिख रहे थे। वो बहुत सुंदर और सेक्सी दिख रही थी। वो फ्रिज के पास गयी और हम तीनो के लिए बियर की बोतल ले आई। मैं, बलदेव और मुन्ना साथ में सोफे पर आराम से पैर फैलाकर बियर पीने लगे। बियर बिलकुल चिल्ड थी। मजा आ गया था।  हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम 
“आओ जान!! आज तुमको 3- 3 मर्दों से एक साथ चुदवा दूंगा। बहुत दिनों से तुम 3- 3 लंड एक साथ खाना चाहती थी। सामूहिक चुदाई करना चाहती थी। आज तुम्हारा सपना पूरा हो जाएगा” मुन्ना अपनी बीबी की तरफ देखकर बोला

loading...

“अजी!! मैं तो कबसे आपके दोस्तों के लौड़े खाने को मचल रही हूँ” सुलू बोली और हमारे बीच में आकर बैठ गयी। उसने मेरी और बलदेव की जींस वाली पेंट की बटन खोल दी और हम दोनों के लौड़े बाहर निकाल लिए। सुलू हम दोनों के लौड़े जल्दी जल्दी फेटने लगी। मेरा लंड 6” लम्बा और बलदेव का लौड़ा 7” लम्बा था। सुलू ने दोनों के लंड पकड़कर बाहर निकाल लिए और जल्दी जल्दी फेटने लगी। वो बहुत बोल्ड स्वाभाव की औरत थी। जल्दी जल्दी फेट रही थी। मैं तो “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा हा” करने लगा। बलदेव भी सी सी सी सी करने लगा। उसको भी खूब मौज आ रही था। उधर मुन्ना भी शुरू हो गया। आज उसकी बीबी सुलू को तीनो मिलकर चोदने जा रहे थे। मुन्ना से अपनी बीबी की साड़ी को पेटीकोट के साथ ही उपर उठा दिया। उसके सफ़ेद संगमरमर जैसे चिकने चूतडो के दर्शन मुझे और बलदेव दोनों को हो गये।
“आओ छू देकर देखो” मुन्ना बोला
मैं और बलदेव हंसने लगे। फिर अपना अपना हाथ सुलू के पुट्ठो पर रख दिया। ओह्ह गॉड!! कितने सेक्सी पुट्ठे थे। मैं और बलदेव अब चूतड़ पर हाथ घुमा रहे थे। कितना सेक्सी अहसास था वो। कितना मजा मिल रहा था। सुलू जमीन पर झुककर हम दोनों के लंड फेट रही थी और मुंह में लेकर चूस रही थी। धीरे धीरे मुन्ना से सुलू की साड़ी उतार दी। उसके पेटीकोट की डोरी खोल दी। उसे निकाल दिया। अब सुलू हम तीनो के सामने सिर्फ ब्लाउस और पेंटी में थी।
“जान!! अपना ब्लाउस उतारो और मेरे दोस्तों को अपनी भरी हुई रसीली चूचियों के दर्शन करवाओ” मुन्ना बोला
सुलू खड़ी हो गयी और अपने ब्लाउस की बटन खोलने लगी। फिर ब्रा भी उतार दी। उसके दोनों बूब्स 36” से भी जादा बड़े थे और जब उसके मम्मे के दर्शन हुए तो बलदेव और मेरी नजरे फटी की फटी रह गयी। इतनी सेक्सी माल थी सुलू।

loading...

“मुन्ना भाई!! तेरी बीबी तो मस्त आइटम है” मैंने कहा
“इसकी चूत तो बहुत रसीली होगी” बलदेव बोला
फिर सुलू हम दोनों की बात सुनकर खुश हो गयी।
“आप दोनों सही कह रहे हो” सुलू बोली और उसने अपनी चटक लाल रंग की पेंटी अपनी कमर मटकाते हुए उतार दी। सुलू अब हम तीनो के सामने डांस करने लगी। वो रैप करने लगी। और खड़े होकर ही उसने हम सबको अपनी रसीली चूत ऊँगली से खोलकर दिखा दी। बलदेव की तो लार टपक गयी।
“चलो दोस्तों!! अगर मुझे चोदना है तो नंगे हो जाए। किस बात का इन्तजार कर रहे हो” सुलू डास करते हुए बोली
मैं, मुन्ना और बलदेव ये सुनकर हँसने लगे। फिर हम तीनो सोफे से खड़े हो गये। और अपने अपने कपड़े उतारने लगे। हम नंगा होकर सोफे पर पीछे टेक लगाकर बैठ गये।
“आओ सुलू भाभी!! हमारे लौड़े चूसो आकर” मैंने कहा
सुलू अपनी कमर मटकाती हुई आ गयी और मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी। वो बहुत गोरी लड़की थी। सिर से पैर तक उसके उसकी खाल मखमली मक्खन जैसी थी। वो मस्त चिकनी माल थी। वो जमीन पर बैठकर मेरा लंड जल्दी जल्दी चूस रही थी। हाथ से फेट रही थी। फिर 5 मिनट तक चूसने के बाद बलदेव से उसे अपनी तरह खिंच लिया।
“अरे भाभी!! मेरा भी चूसो। क्या मैं आपका देवर नही” बलदेव हंसकर बोला
सुलू ने मेरे लौड़े को मुंह से बाहर निकाला और बलदेव के सामने जाकर बैठ गयी। फिर उसके लौड़े को जल्दी जल्दी फेटने लगी। 5 मिनट बाद वो अपने पति मुन्ना का लौड़ा चूसने लगी। इस तरह से खूब चुसी चुसव्व्ल हुआ। अब हम तीनो बेडरूम में चले गये। मुन्ना का बेडरूम 30 बाय 30 फिट का था। बहुत बड़ा और सुंदर बेडरूम था जो किसी फाइव स्टार होटल के कमरे की तरह दिख रहा था। सुलू बिस्तर पर लेट गयी। हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम 
“फक भी हार्ड!!” वो हम तीनो की तरह देखकर बोली

अब मैंने उसके उपर लेट हुआ और सेक्सी होठो को चूसने लगा। कुछ देर तक हम दोनों फ्रेच किस करते रहे। फिर सुलू के 36” के सेक्सी कसी कसी चूचियों को मैं मुंह में लेकर चूसने लगा। वो “……अई…अई….अई……अई….इसस्स्स्स्स्…….उहह्ह्ह्ह…..ओह्ह्ह्हह्ह….”करने लगी। मैंने उसके दोनों दूध बारी बारी से मुंह में रख दिए और चूसने लगा। सुलू मेरे सिर पर बड़े प्यार से हाथ घुमाने लगे। मैंने 15 मिनट उसकी दोनों चूचियां चूसी।
“विराज!! अब मेरा नम्बर” बलदेव बोला और मेरे नंगे पुट्ठे पर चांटे मारने लगा।
“ले भाई!! तू भी भाभी के दूध पी ले” मैंने कहा और सुलू के उपर से हट गया। अब बलदेव मुन्नू की बीबी के होठ चूसने लगा। खुश चूसा जी भरकर। फिर दोनों निपल्स को हाथ से मसलने और दबाने लगा। सुलू “अई…..अई….अई… अहह्ह्ह्हह…..सी सी सी सी….हा हा हा…”की आवाजे मुंह खोलकर निकाल रही थी। बलदेव मुंह चला चलाकर उसके आम चूस रहा था। अब सुलू को चोदना था।
“इस रंडी को पहले मैं खाऊंगा” मैंने कहा
“नही!! इस छिनाल के भोसड़े में पहले मेरा लौड़ा जाएगा” बलदेव बोला
इस बात पर हम दोनों का झगड़ा हो गया। फिर मुन्ना से टॉस करने को कहा। टॉस में बलदेव जीत गया। उसने सुलू के पैर खोल दिए और चूत में लंड गाड़ दिया। फिर जल्दी जल्दी उसे चोदने लगा। सुलू भी “आऊ…..आऊ….हमममम अहह्ह्ह्हह…सी सी सी सी..हा हा हा..”बोल बोलकर चुदवा रही थी। बलदेव उसके दोनों सेक्सी चिकने और गोरे कंधे पकड़कर उसे पेल रहा था। खूब कायदे से चोद रहा था। मुन्ना अपनी दीदी को देककर खुश था। वो अपनी बीबी को पराये मर्द से चुदवाना चाहता था। बड़े दिनों से उसकी ये बड़ी इक्षा थी। बलदेव सुलू को अपनी बीबी की तरह प्यार कर रहा था। ललम्बे और गहरे धक्के उसके भोसड़े में मार रहा था। सुलू की हालत खराब हो रही थी। मैंने अपने लौड़े को पकड़कर मुठ देने लगा जिससे जब मेरा नम्बर आए तो लौड़ा लोहे की तरह सख्त रहे। 15 मिनट तक बलदेव से सुलू को चोदा। फिर हट गया। अब मैंने सुलू के उपर लेट गया। उसकी चूत में लंड डाला और जल्दी जल्दी उसे पेलने लगा। सुलू “….उंह उंह उंह हूँ.. हूँ… हूँ..हमममम अहह्ह्ह्हह..अई…अई…अई…..”की कामुक आवाजे निकाल रही थी। मेरे धक्को से उसकी दोनों बूब्स उपर नीचे जल्दी जल्दी उछल रही थी और डिस्को डांस कर रही थी। मुझे ये देखकर खुसी मिल रही थी। हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम 

“विराज भैया!! और जोर से पेलो!! आज फाड़ दो मेरी भोसड़ी को” सुलू बोली
अब मैं और तेज तेज धक्के देने लगा। पट पट चट चट की आवाज सुलू के पेडू से आ रही थी। जल्दी जल्दी उसे मैं पेल रहा था। इसलिए हम दोनों के पेट और पेडू आपस में जोर जोर से टकरा रहे थे। वही से आवाज आ रही थी। मैंने 20 मिनट मुन्ना की बीबी को उसके सामने पेला। फिर हट गया। अब मुन्ना आकर अपनी बीबी को चोदने लगा। सुलू कितनी किस्मत वाली थी। 3 -3 मोटे लौड़े आज खा रही थी। सारी रात उसे हम तीनो से पेला और चूत में माल झाड दिया। सुलू पूरी तरह से संतुस्ट थी।

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone