दिल्ली की शादी में अनजानी चूत चोदी


loading...

हाय दोस्तों मेरा नाम सुनील है और मेरे दोस्त सब मेरे को सनी कह के बुलाते है. मेरी उम्र 21 साल की है और मैं हरयाणा के सोनीपत से हूँ. मेरी बॉडी खेतों में काम कर के बहुत अच्छी बन चुकी है. और मेरी बॉडी को देख के बहुत लड़कियां उसके ऊपर फ़िदा भी है. कहने के लिए मैं गाँव से हूँ लेकिन बहार हॉस्टल में पढाई की है इसलिए सिटी का मॉडर्न लुक और रीतीरिवाज से वाकिफ हो गया हूँ. और मैंने अब वापस हरयाना अपने गाँव में आने के बाद भी अपनी वही सिटी वाली अदा को बचा के रखा हुआ है.

मुझे 18 साल की उम्र में ही चूत को चोदने का बड़ा दिल करता था इसलिए मैंने अपने घर के पास एक लड़की जिसका नाम पिंकी था उसे पटाना चालु कर दिया था. पिंकी को अपने जाल में डाल फंसा के उसकी चूत में अपना लोडा डालने में मेरे को 1 साल से ज्यादा ही लग गया था. पर उसके बाद मैंने किसी और लड़की को नहीं चोदा था और ना ही किसी और की तरफ देखा था.

loading...

क्यूंकि पिंकी एक बहुत ही मस्त लड़की थी. उसकी उम्र 18 साल की है और वो एक नम्बर की कच्ची कली है. मैंने पहली बार किसी की चूत मरी तो वो चूत सिलबंद थी. मेरी किस्मत ने मेरा पूरा साथ दिया था. इसलिए मैंने उसको आराम आराम से पुरे मजे से चोदा और आज भी उसे मैं चोदता हूँ.

loading...

घर के पास होने की वजह से मैं उसे जब मर्जी आये चोद लेता हूँ. और जब उसका दिल सेक्स के लिए करता है तो वो मुझे कह देती है. और मैं अच्छा सा मौका देख कर उसकी चूत की आग को शांत कर देता हूँ अपने लंड से.

पिंकी मुझे अक्सर कहती है की मैं तेरे लंड की दीवानी हो गई हूँ सनी! पहले मुझे लगता था की साली ये मुझसे ऐसे ही मजाक में कहती रहती थी. पर दोस्तों ऐसा नहीं था वो सच में मेरे लंड के लिए पागल सी हो चुकी थी. जब मैं उसे एक विक तक नहीं चोदता था तो व मेरे लंड को पागलों की तरह प्यार करती थी. इस से मुझे पता चला की शायद ऐसा सच में ही था. वो मेरे 7 इंच लम्बे लंड के लिए पागल हो रखी थी.

पर दोस्तों अब मैं पिंकी को चोद चोद कर काफी बोर सा हो चूका था. मुझे और मेरे लंड को अब कोई नहीं चूत चाहिए थी. पर मुझे स्टडी और पिंकी से टाइम ही नहीं मिल रहा था. पहले तो मैं सारा दिन स्टडी में लगा रहता था. और जब मैं स्टडी से फ्री होता था तो पिंकी मुझे पकड़ लेती थी लंड लेने के लिए. इसलिए मेरे पास दूसरी लड़की को पटाने का टाइम ही नहीं था. पर कहते है ना भगवान् के वहाँ पर देर है लेकिन अंधेर नहीं है. हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम

मेरे साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ दोस्तों. मेरा एक दोस्त है और वो मेरे घर के पास ही रहता है. उसका नाम राहुल है और हम दोनों की उम्र एक जितनी ही है. हम दनो स्कुल लाइफ से एक साथ है. हम दोनों बचपन में एक साथ खेल कर ही बड़े हुए थे. इसलिए हम दोनों बहोत अच्छे दोस्त होने के साथ भाई जैसे थे. हम दोनों ने रेलवे जॉब का फॉर्म एक साथ भरा था. अब हम दोनों उसके एग्जाम के लिए दिल्ली जानेवाले थे. घर पर बोल के हम दोनों दिल्ली जाने के लिए रेडी हो गए, एक्साम के दो दिन पहले ही.

एग्जाम सुबह में 7 बजे थी और इसलिए हमने एक दिन पहले ही वहाँ पर जाना था. ख़ैर हम दोनों अपना अपना बेग लेकर दिल्ली निकले थे. और एग्जाम सेंटर के पास ही एक होटल में रुक गए. हम दोनों ने पूरी रात वहां पर जाग कर स्टडी की एग्जाम के लिए. और इर सुबह ठीक 7 बजे एग्जाम देने के लिए एग्जाम के सेंटर पर चले गए. एग्जाम 3 घंटे का था और फिर एक छोटे से ब्रेक के बाद वापस उसी एग्जाम का एक और टेस्ट था. वो सब ख़तम कर के हम लोगो को सेंटर पर ही शाम हो गई. कुछ 4 बजे हम फ्री हुए थे.

मैंने राहुल को कहा की चल यार घर चलते है अभी ट्रेन मिल गया तो लेट नाईट तक हम घर पहुँच ही जायेंगे. लेकिन उसने मेरे को बोला यार अब इतने दूर ही आये है तो एक शादी अटेंड कर के जाएंगे. वो शादी वाला घर हमारी भी पहचान का था और राहुल ने कहा चल तुम्हारे घर से भी कोई नहीं आया तो तुम ही अटेंड कर लो फिर हम दोनों ने नहा धो के होटल से चेक आउट कार लिया और हम शादी वाले घर जा पहुंचे. वैसे भी एग्जाम की वजह से काफी बोज सा था इतने दिनों से, ऐसे कह सकते है की एग्जाम ने गांड मार के रखी हुई थी हमारी.

शादी वाले घर हमारा अच्छा स्वागत हुआ और हमें एक कमरा भी दिया गया. हम दोनों ने उस कमरे में जा के सजने धजने का काम कर लिया. दिल्ली में घुमने के इरादे से हम लोग अच्छे कपडे साथ ही ले के आये थे. डिनर भी लग गया था इसलिए हम रूम से निकल के सीधे डिनर के लिए ही गए. फिर हम दोनों हाथ में कोल्ड ड्रिंक ले के एक साइड में खड़े हुए लड़कियों को ताड़ रहे थे. तभी मैंने नोटिस किया की एक लड़की लड़की मुझे ही बार बार देख रही थी. मेरी भी उसके ऊपर नजर तो थी ही. हम दोनों पहले भी एक बार मिले थे जब मैं कुछ साल पहले इस घर में आया था.

लेकिन मुझे लगा की शायद मेरी गलती भी हो रही हो. लेकिन वो जब हंस के मेरे पास से निकली तो मुझे लगा के वो वही है और वो मेरा वहम नहीं था. मैं समझ गया की आज तो मेरी लोटरी ही लग गई है. मैं अच्छे से समझ गया था की आज मुझे इस शादी में इस लड़की की चूत ने ही बुलाया है. पूरी रात 11 बजे तक हम दोनों में नैन मटाके चलते गए. वो कभी मुहे देखती तो कभी मैं उसे देखता था. और फिर हिम्मत बढ़ी तो एक दो बार मैंने उसे आँख भी मार दी.

शादी शरू हो गई थी लेकिन फेरो का मुहर्त सुबह 4 बजे का था इसलिए मंडप में अब घर के लोग ही थे. और बाकी सब जगह देख कर सो गए थे या फिर अपने घर गए हुए थे. और रात के ऑलमोस्ट 12 बज गए थे. राहुल ने मुझे बोला की चल यार सो जाते है कुछ देर और फिर सुबह की ट्रेन पकड के निकल जायेंगे. मैंने कहा चल ठीक है. मेरे दोस्त को तो बिलकुल ही पता नहीं था की मैं इस लड़की को कब से लाइन दे रहा था और वो भी मेरे को लाइन दे रही थी.

मैंने ऐसे ही कन्फर्म करने के लिए उस लड़की के बारे में किसी से पूछा तो पता चला की वो दिल्ली की ही है. और उसका नाम जहान्वी है और वो करीब 18 साल की ही थी. और मेरे को ऐसी कच्ची कली को चोदने का अनुभव पिंकी से मिला था इसलिए मेरे मन में लड्डू से फुट रहे थे. राहुल और मैं एक जगह देख कर वही पर लेट गए. राहुल और मैं एक साथ ही लेटे हुए थे. राहुल को बहुत जल्दी ही नींद भी आ गई. पर मेरी आँखों में जहान्वी का सेक्सी फिगर घूम रहा था. मैं उसे चोदने के लिए अब एकदम बेकरार सा हो चूका था!

हमारे साथ और एक लड़का सोया हुआ था जो उम्र में हमसे काफी छोटा था. और फिर एक और व्यक्ति कमरे में आया. और उस ने लाईट ऑफ़ कर दी. मैंने सोचा की अब ये साला कहाँ सोयेगा क्यूंकि बेड पर तो मेरे और राहुल के सोने के बाद जगह नहीं थी. पर उसने बेड के निचे ही अपने बिस्तर लगा दिया और वो सो गया. कुछ ही देर में मेरे ऊपर कुछ गिरने लग गया. मैंने देखा तो वो फुल थे. मैंने सोचा अब ये साले फुल यहाँ कहाँ से आ रहे है! और कुछ और फुल आ के मेरे ऊपर गिरे. हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम

मैंने अपने मोबाइल की लाईट ओन की और निचे देखा जिधर से फुल आया रहे थे. मुझे बहुत गुस्सा भी आया की साला यहाँ चोदने के सपने आनेवाले है और ये फुल की माँ बहन कर रहा है. लेकिन जब उसे देखा तो मेरी खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा क्यूंकि वो जहान्वी थी जो निचे लेटे हुए मेरे ऊपर फुल डाल रही थी. मैंने एक बार राहुल और उस छोटे लड़के को देखा. वो दोनों एकदम गहरी नींद में सोये हुए थे.

मैं बेड से उठा और दरवाजे को अंदर से बंद कर दिया और जहान्वी के पास लेट गया. जहान्वी ने मुझे लेटे हुए ही अपनी बाहों में ले लिया. उसने मुझे कहा जब से मैंने आप को कपडे चेंज करते हुए देखा है तभी से आप के लिए पागल हुई घूम रही हूँ! मैंने कहा मुझे नंगा देखा क्या, मेरा लंड देखा?

वो शर्मा गई और धीरे से बोली लंड! बस फिर क्या था मैंने उसके होंठो पर अपने होंठ रखे और जोर जोर से उसके होंठो को चूसने लग गया. मेरा एक हाथ उसके बूब्स पर था और दुसरे हाथ से उसके चूतड दबाने लगा. उसके बूब्स और चूतड दोनों काफी सॉफ्ट लग रहे थे. मैंने जल्दी से उसके कपडे उठाने शरु कर दिए. और जहान्वी ने मेरा पजामा  निचे किया और मेरे लंड को बहार निकाल दिया.

लंड को वो अपने हाथ में ले के खेलने लग गई. मैं अब 69 पोजीशन में आ गया. मैं उसके ऊपर था मैंने देखा की उसकी पेंटी पूरी गीली हो गई थी. इसलिए मैंने उसकी पेंटी भी उतार दी और अपनी जीभ निकाल कर उसकी गीली चूत पर फेरने लगा गया. उसकी चूत का रस पहले ही काफी ज्यादा बहार आ रखा था. और मैंने 15 मिनिट तक उसकी चूत को अच्छे से चाट कर उसकी चूत का रस एक बार फिर से निकाल दिया.

जहान्वी ने एक रंडी की तरह ही मेरे लंड को चूसा. इस तरह तो मेरा लंड आजतक पिंकी ने भी नहीं चूसा था. मैं समझ गया था की ये साली पहले भी लंड ले चुकी है! करीब 10 मिनिट में ही उसने मेरा लंड चूस चूस कर मेरे लंड का सब पानी निकाल दिया. मेरा लंड अब शांत हो चूका था. मैंने फिर से उसका मुहं चोदना शरु दिया!  हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम

अब उसके मुहं की गर्मी ने मेरा लंड 2 मिनिट में ही पूरा खड़ा कर दिया. अब मैं सीधा उसके ऊपर आ आ गया और उसकी दोनों टांगो को खोल कर अपने लंड उसकी चूत में पूरा 2 धक्को में डाल दिया. शरु शरु में जहान्वी को थोडा दर्द हुआ लेकिन बाद में उसको खूब मजा आया. मैंने उसे रात को 3 बजे तक जम कर चोदा. और फिर उसने मेरा नम्बर लिया और अपना नम्बर मेरे को दिया.

जाते जाते उसने मुझे खड़ा किया और खुद निचे बैठ कर मेरा लंड चूसने लग गई. उसने कहा की जाने से पहले ये लंड मेरे गले में डाल के मेरे गले को चोद दो. मैंने उसका गला करीब 15 मिनिट तक चोदा. और अपने लंड का सब पानी उसके मुहं में ही निकाल दिया!

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone


gand mari bhai nechoot ka bhoothindi sex picshindi sexy story websitemarwadi sex storymuslim bhabhi ki chudai kahanimama ki beti ki gand marihindibsex storymaa chudai story in hindihindi sex story trainsaas aur damad ki chudaisasur ne choda hindi kahanisasur ko patayasuhagraat ki chudai ki kahanidamad se chudaichachi ki chikni chutantarvasna buasasur chudai storykamuk storygand mari bua kisexy story hindi familyjija sali chudai story in hindihindi sixy storyxxx sex khanipapa beti chudai kahanidost ki girlfriend ko chodabahan ko choda hotel mebete ne maa ko choda storynisha ki chootpinki ki chudaisonam ko chodasexy hindi indian storychoot chaatimeri kunwari chut ki chudaiaunty ne chudwayahindi sexy storegadhe jaise lund se chudaichachi ko neend me chodamalkin ki chudai ki kahanihindi sex story with photosex hindi story comnude photo in hindihindi font fuck storybehan ko chodakallo ki chudaichachi ki chodai ki kahanisasur ne bahu ko choda hindi kahanisasur ne bahu ko choda storyteacher ki chut ki kahanilesbian hindi storyladke ki gand marimami ki chut marilong hindi sex storiesdesi sex hindi kahanimausi ko choda kahaninidhi ki chudaixxx sex kahani hindigf ki chudai kahanisex story indian in hindihindi sixy storybete ne maa ki chudai ki kahanihindi baap beti chudai kahaniblackmail chudai kahanibrother sister sex story in hindimoshi ki ladki ki chudaifree hindi sexi storymuslim ladki ki chudai ki kahanisasu maa ki chudai storymosi ki chut mariwww sex hindi story comchut ka darshansuhagraat ki chudai ki kahanibiwi ki gaand mariboss ne mummy ko chodachut chtwaisex story incest hindijija sali ki chudai kahani hindiseksy kahaniantarvasna com chachi ki chudaibete ne gand marabhabhi ko choda bus mehindi chudai ke chutkuleantarvasna mosibahan ki chudai in hindi story