भाभी की सेक्सी बहन को चोदा


Click to Download this video!
loading...

हेलो दोस्तों आप सभी का एक बार स्वागत है मेरी पिछली कहानी पढ़ी और उन्हें लाइक दिए उसके लिए बहुत शुक्रिया, और आप सभी के इसी प्यार की वजह में एक फिर बार हाजिर हूं.. स्टोरी पर आने से पहले अपने बारे में बता दू.

मेरा नाम राहुल है मेरी उम्र २२ साल है लंड १० इंच बड़ा और इंच मोटा है, तो अब सीधा स्टोरी पर आते हैं.

loading...

यह स्टोरी तब की है जब मैं अपनी पढ़ाई पूरी कर ली थी. और फ्री था, हमारे घर में मम्मी पप्पा मेरी एक कजिन जानवी जो के पढ़ाई करने के लिए हमारे घर में रहती है बहुत ही सेक्सी और हॉट है, उमर २० साल फिगर ३६-२८-३८. उसे देखकर मैं हमेशा मुट्ठ मारता हूं.

loading...

और उसके साथ में मस्ती भी करता हूं और मस्ती मस्ती में उसके बोबे और चूत को हाथ लगा देता हूं, पर वह कभी कुछ नहीं बोलती, बस एक छोटी सी स्माइल देती है. मेरे पापा बिजनेस मैन है तो अक्सर घर से बाहर रहते हैं, महीने में चार बार घर आते हैं.

एक दिन मैं सुबह उठा और नहा के नीचे नाश्ता करने गया, तो मम्मी ने बताया कि मेरी किसी कजिन जिसका नाम सूरज है उसकी इंगेजमेंट फिक्स हो गई है, जो महीने के बाद है और सूरज की फीयांस अपने ही सोसाइटी में रहती है, पहले तो मैंने इस बात पर ध्यान दिया नहीं.

फिर दिन में थोड़ा सोचकर अगर इसी सोसायटी की है तो मिलते रहेंगे, और देवर भाभी में तो मस्तियां होती रहती है, तो पहले मैंने मम्मी से सूरज के बारे में सारा पूछा, फिर सूरज की फियान्स निशि के बारे में सब कुछ पूछा सीवाय फिगर के.

मैं – मम्मी अब वह हमारे रिश्तेदार बन गए हैं, तो क्यों ना उनको आज डिनर पर बुलाया जाए?

मम्मी – बात तो तू सही बोल रहा है, मैं पापा को बोलती हूं उन्हें आज डिनर पर इन्वाइट कर ले.

मेरा प्लान काम कर गया, अब तो बस मैं रात होने का इंतजार कर रहा था.

रात के करीब बजे उनकी फैमिली आई. मैं भी नीचे आया और दो सेक्सी परियों को देखकर सीढ़ियों पर खड़ा हो गया. फिर निचे आ के अंकल से हाथ मिलाया और आंटी के पाव छुए. उनकी फैमिली में अंकल आंटी दो रंडियां और एक कुत्ता यानी उन रंडियों का भाई था.

दोनों रंडियां क्या माल लग रही थी, एक थी निशि क्या फिगर ३४-२६-३२. देखते ही लंड खड़ा हो गया और दूसरी मीता ३४-२८-३४ और ऊपर से दोनों में रंडीयोने सिड्यूस करने  के लिए साड़ी पहनी हुई थी. मेरा तो कंट्रोल नहीं हो रहा था, मैं मिनट नीचे बैठकर ऊपर गया और मुट्ठ मार के नीचे आया और निशि के पास बैठ गया और बातें करने लगा.

तभी मम्मी ने कहा खाना तैयार है, आ जाइए..

और हम सब खाना खाने लगे, मैं अब नीशी और मिता को देख रहा था और मेरा लंड फिर से एकदम टाइट हो गया.. खाना खाकर मैं सबके लिए आइसक्रीम लेकर आया फिर मैंने निशि और मिता को कहा.

मैं – भाभी आओ आप को मैं घर दिखा दूं.

अंकल – हां बेटी जाओ जाओ..

दोनों रंडियां मेरे साथ ऊपर चली, हम तीनो एक दूसरे को स्माइल देते थे और मैं उनको घर दिखाता गया. फिर लास्ट में उन्हें अपने रूम में लेकर आया, तभी मैंने नोटिस किया की एक सेक्स मेगेजिन वही बेड पर पड़ी है.

निशि की नजर सीधे उस मेगजीन पर पड़ी और उसने कहा – आप घर बैठे-बैठे क्या करते हैं..

और दोनों हंसने लगी, मैने निशि के हाथ से मैगजिन लेने की कोशिश की पर उसने हाथ हटा दिया, मैं समझ गया कि यह मजा लेना चाहती है तो मैं भी नीशी से चिपक चिपक के मेगेजीन लेने की कोशिश करने लगा, और मैंने निशि का दूध दबा दिया. वह कुछ नहीं बोली तो मुझे लगा शायद मिता ने भी नोटिस किया होगा, फिर मीता ने निशि के हाथ से मेगेजिन ले ली.

मीता – जरा मैं भी देखूं. क्या देखते हो आप?

मैं – अरे यार अब एक सिंगल बंदा क्या करेगा.. मेरे पास आप दोनों जैसी सेक्सी गर्लफ्रेंड तो नहीं है.

निशी – अच्छा जी आप अपनी भाभी से फ्लर्ट कर रहे हो?

मैं – अभी आपकी शादी थोड़ी ना हुई है..

तभी निशि ने एक नोटी सी स्माइल दे दी, नीचे से मम्मी की आवाज आई बेटा नीचे आ जाओ.

मैं हां मम्मी आया, प्लीज आप दोनों मेरे से प्रॉमिस करो, यह मेगेजिन वाली बात किसी को नहीं बताओगे.

वह दोनों बिना कुछ बोले चलने लगी, मैं भी पीछे पीछे चल रहा था दोनों की मटकती गांड देखकर मेरा लंड एकदम टाइट हो गया, मैं दोनों के पीछे अपना लंड मसलने लगा. तभी निशि ने मुड़ कर पीछे मुझे देखा और नॉटी स्माइल दिया. जैसे ही वह लोग गए मैं सीधा अपने रुम में गया और डोर को लॉक किया और मुठ मारने लगा.

फिर दिन ऐसे ही उन्ही की याद में गुजर गए. सोसाइटी में अगर मिलते तो दूर से स्माइल देते एक दूसरे को.. तीसरे दिन सुबह को मम्मी ने मुझे १२ बजे उठाया.

मम्मी – उठ भी जा कितना सोएगा? आज लंच तुम्हारी भाभी के घर पर है उन्होंने इनवाइट किया है.

यह सुनते ही मैं जल्दी से उठ गया और नहाने चला गया. फिर हम बजे घर से निकले उनका घर नजदीक ही था मिनट में पहुंच गए, घर के अंदर गए सब से मिले पर मुझे जीन रंडियों की तलाश थी वह दिख नहीं रही थी, करीब १० मिनट बाद मैंने पूछा. अंकल भाभी दिखाई नहीं दे रही..

अंकल ने आवाज लगाई, निशी बेटा मीता बेटा नीचे आ जाओ. दोनों बहनों को देख कर मेरा लंड एकदम टाइट हो गया. दोनों रंडियों ने ट्रांसपरेंट साड़ी पहनी हुई थी और दोनों के नवल क्लियर दिख रहे थे. दिल तो कर रहा था अभी उन दोनों रंडी को चोद डालूं, पर अपने आप को कंट्रोल किया.

मीता और नीशी सबसे मिली आखिर में मेरा हाथ मिलाया. मैंने दोनों का हाथ थोड़ा मसला और स्माइल दे दी, दोनों बहनें मेरे पास बैठ गई, मैं दोनों के बीच में था.

मैं मीता के कान में – बहुत ही सेक्सी लग रही हो आज तो.. क्या इरादा है?

मीता शरमाते खाना खिलाने का और स्माइल दिया.

फिर थोड़ी देर बाद मैंने नीशी से कान में कहा – लुकिंग हॉट भाभी जी.

निशि ने स्माइल किया और कहा थैंक्यू.

फिर हम सब खाना खाने डाइनिंग टेबल पर बैठ गए, मैं और मीता आमने सामने बैठे थे. और निशि मेरे बगल में थी, सभी ने खाना शुरू किया. तभी मैं अपना एक बूट उतारा और मीता की सेक्सी टांगों को अपने पैर से सहलाने लगा.

मीता ने इशारों में कहा क्या कर रहे हो? और मेरे पैर को हटाने की कोशिश करने लगी. मैंने अपना पैर पीछे कर दिया फिर मिनट बाद मैंने अपना पैर सहलाने लगा इस बार उसने भी इनकार नहीं किया.

थोड़ी देर बाद उसका पैर मुझे महसूस हो रहा था, उसने अपना पांव सीधा मेरे लंड पर सहलाने लगी. ऐसे ही हमने लंच खत्म किया और सभी बातें करने लगे. मैं और मीता एक दूसरे को इशारे कर रहे थे, तभी मम्मी बोली अच्छा जी अब हम चलते हैं.

और हम वहां से आ गए, घर आते मैं बाथरुम में गया और मीता के नाम की मुठ मारी और सो गया.

दूसरे दिन मैं जल्दी उठ गया और करीब १० बजे तैयार होकर घर से निकल गया और उन के घर आ गया. मैंने दरवाजा नोक किया आंटी ने दरवाजा खोला और मुझे अंदर बैठाया, पानी दीया तभी मीता नीचे आई टाइट जींस और टॉप में उसको देखते ही मेरा लंड टाइट हो गया.

आंटी जैसे ही किचन में गई मैंने मीता के बोबे को मसलना शुरू कर दिया.

मीता ने मुझे दूर किया – यह क्या कर रहे हो? मम्मी बैठी है.

मैं – चुप कर रंडी कल तो बड़े मजे ले रही थी तू..

आंटी – मीता बेटा राहुल को अपना घर तो दिखाओ. कल भी उसने घर नहीं देखा था.

मैं – देख अब तो तेरी मां ने भी परमिशन दे दी तुझे चोदने की.

मीता – हां मम्मी.

मीता आगे चलने लगी जैसे ही मिता मुझे अपने बेडरुम दिखाने लगी मैं रूम लोक किया और पीछे से उसके बूब्स दबाने लगा और नेक पर किस करने लगा..

मैं – क्या माल है तू रंडी. जब से तुझे देखा नींद ही नहीं आती मेरे को.

मीता – छोड़ो राहुल कोई देख लेगा.

मैं – चुप कर रंडी.

और उसके होठों को पागलों की तरह चूमने लगा, थोड़ी देर बाद मीता भी साथ देने लगी मैंने उसे बेड पर लेटाया और उसकी जींस उतारी और उसे किस करने लगा, साथ में उसकी चूत को मसलने लगा, तभी दरवाजे पर आवाज आई, मीता अपनी जींस लेकर बाथरूम में चली गई और मैंने दरवाजा खोला.

निशि – ओ हाय राहुल.. तुम यहां क्या कर रहे हो मीता कहां है?

मैं – मीता बाथरुम में है.

तभी मीता जींस पहन के बाहर आई.

निशि – मीता तुझे मम्मी बुला रही है जा..

मीता वहां से चली गई है और मैं निशी बातें करने लगे, करीब आधे घंटे बाद मैं भी वहां से चला गया.

उसी रात को एक कॉल आया.

मैं – हेलो कौन?

मीता – मैं मीता बात कर रही हूं, मुझे तुमसे मिलना है.

मैं – अभी?

वह – हां, तुम अभी तुम्हारे घर के पीछे जो खाली घर है उसमें आ जाओ.

मैंने कॉल बंद किया और जल्दी से वहां चला गया.

मीता खिड़की के पास खड़ी थी.

मीता – इधर राहुल..

मैं खिड़की से जैसे ही अंदर गया मिता ने अपना कोट उतार दिया और मैं उसे देख कर हैरान हो गया उसने नीचे कुछ नहीं पहना था.

हम दोनों एक दूसरे पर टूट पड़े एक दूसरे को पागलों की तरह किस कर रहे थे, इसी दौरान मैं उसकी गांड दबाने लगा और मीता मेरा लंड मेरी पैंट के ऊपर से मसलने लगी. मीता ने मेरी शर्ट उतार दी और फिर से किस करने लगी, मैं उसकी चूत को मसलने लगा २० मिनट के किस के बाद मिता ने मेरी पेंट उतारी और मेरा १० इंच लंड देखकर बोली.

मीता – इतना बड़ा मैं तो मर जाऊंगी.

और अपने मुंह में ले लिया मैं उस के बालो को खींच रहा था.

मिनट बाद वह उठी और मैंने उसे नीचे लेटाया और उसकी चूत को चाटने लगा. उसकी चूत को चूसना और उंगली डालकर अंदर बाहर करने लगा. २० मिनट बाद उसने पानी छोड़ दिया और मैं सारा पानी पी गया.

मीता – चोदो अब अपनी रंडी को.. अब नहीं रहा जाता.

मैंने लंड को उसके मुंह में दिया और मिनट बाद उसकी चूत पर सेट करके एक धक्का मारा आधे से ज्यादा लंड अंदर चला गया, तो मीता चिल्लाई मादरचोद निकाल इसे..

मैंने उसे किस किया और एक धक्का मारा. थोडा लंड चला गया उसकी आंखों से आंसू आने लगे, मीता की आवाज में दबा रहा था. थोड़ी देर बाद जब वह शांत हुई, तो मैंने एक और धक्का मारा. मीता ने चिल्लाने की कोशिश करी पर मैंने उसकी आवाज दबा दी. थोड़ी देर बाद ऐसे ही रहने के बाद में धीरे धीरे अंदर बाहर करने लगा, अब मीता को भी मजा आ रहा था, वह भी गांड उठाकर चूदवा रही थी.

फिर मैंने अपनी स्पीड तेज की और उसकी एक टांग कंधे पर रखकर चोदने लगा. १५ मिनट बाद हम दोनों 69 की पोजीसन में आ गए. मिनट बाद मैंने मीता को घोड़ी बनाया और उसकी चूत में लंड पेल दिया.

मीता – अह्ह्ह मादरचोद धीरे कर.

मैंने उसकी एक ना सुनी और जोर जोर से चूत को चोदने लगा और गांड में थप्पड़ मारने लगा.

१० मिनट बाद मिता उल्टी नीचे लेट गई और मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसकी चूत में लंड तेजी से अंदर बाहर करने लगा.

मैं – मीता मैं झड़ने वाला हूं.

मीता अपने घुटनों पर आकर मेरे लंड को चूसने लगी और मेरा सारा पानी अपने बड़े बोबे पर गिरा लिया.

१०  मिनट हम वैसे ही लेटे रहे और फिर एक दूसरे को किस करके घर चले गए..

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone


sasur ne choda hindi kahanikamwali ki gand maribehan ki saas ko chodadesi family chudai kahanicrossdressing stories in hindichoot me khujlipadosi aunty ki chudaichachi ko maa banayavidhva ko chodasex stories in hindi with picsjija sali sex story in hindimami sex kahanihindi sex storey comsex story to read in hindibeti ki chudai ki kahani in hindihindi porn storybua ki chutjeth se chudisexstorieshindiindian family chudai kahanisonia ki chudai storysister ki chudai hindi storyrashmi ki chudaimuslim randi ko chodakhel me chudaigujrati sexi vartamausi ki ladki ko chodawww desi sex story comchut ka darshansaali ki chutlatest hindi sexstorieschudai stories in hindi fontssali ki kuwari chuthindi sex story jija salihindi sexy story in trainindiangaysexstorieshindi kahani mausi ki chudaiall sexy storygaand ka cheddevar ko patayabaap beti ki chudai kahani hindiindian sex stories latestbahan ki gand mari kahanimaa chudi uncle semausi ki chut fadibahan ki malishsex stories hindi indiagadhe jaise lund se chudaiincest kahanimaa ki gand mari bete nesexy story in hindi auntyjawan ladki ko chodabehan ki saas ko chodarinki ki chudaimene chut marwaiantarvasna sistersasur bahu sex story hindisex kahani gujratichachi ko sote me chodahindi sex story with picsexy storiresmousi ki chudai kahanicall girl ko chodabua ki malishssex story in hindipadosan bhabhi ki chudai kahanitrain mai chudai storypadosi aunty ki chudaitution teacher ki gand marihindi chudai kahanidoodh wale se chudaigay boy kahaninatin ko chodateacher ki chudai dekhirajni ki chudaimene apni teacher ko chodabhabhi ko bus me chodasans ko chodadidikichut