बहन बनी रोमेंटिक वाइफ


Click to this video!
loading...

यह चुदाई कहानी उन लोगो के लिए हे जो रोमेंटिक हो, लविंग हो, और सेक्सी फिलिंग रखते हो, वह लोग पढे जो बस और बस सेक्स चाहते हो. अगर आप को मेरी कहानी पसंद आये तो कमेन्ट जरुर करे.

तो दोस्तों में मनीष ३० साल का अनमेरिड हु, दुसरे शहर में नोकरी करता हु, मेरे घर पर मेरी मम्मी और मेरी बहन हे मेरी मम्मी की उमर ५५ और बहन की २८ साल हे.

loading...

मेरी बहन नेहा स्मार्ट सेक्सी, हॉट और सिंगल हे, तो दोस्तों में और मेरी बहन बहुत अच्छे दोस्त हे. हम साथ मूवी देखने जाते है खाना खाने जाते हे और थोड़ी थोड़ी नॉन वेज बाते भी कर लेते हे. लास्ट विक हम मेरी बहन की एक दोस्त के यहाँ गये थे.

loading...

वह अपने होने वाले ससुराल जा रही थी. उस से मिल कर जब हम वापस आ रहे थे तो बातों बातों में मेने जाने क्या कहा, या  नेहा ने क्या समझा, वह मुझे देख कर मुस्कुराने लगी और उस ने मुझे बताया की वह उस के बॉयफ्रेंड से शादी करना चाहती है.

मैं सुरत में अकेला रहता था और मेरा खुद का घर भी था, वैसे हम काफी फ्रेंक हैं, तो हमने डिसाइड किया की शादी भाग कर करेंगे, तो अगले दिन मैंने अपने फ्लैट को डेकोरेट करवा दिया ताकि मेरी बहन और उसके बॉयफ्रेंड मीन्स मेरे जीजा को वहां कुछ दिन रुकवा सकू.

फिर शाम को में घर से मेरी बहन के साथ निकला और उसे सूरत के एक पार्लर में छोड़ दिया जहा वह चेंज करने लगी थी,  बस मैं ३ घंटे तक इधर उधर घूमता रहा और जब मेरी बहन को वापस लेने पहुंचा तो ओ माय गॉड.. यह क्या लग रही थी वो? वह बहुत खूबसूरत दिख रही थी, लाल लहंगा चोली हाथों में चूड़ी, सर पर पल्लू उफ्फ्फ.

मैंने कहा कि आज अगर मेरी बहन नहीं होती ना तो यह शादी रुकवा देता मैं, वहां से मैं नेहा को ले कर मंदिर गया, टाइम बितने लगा, शाम के ५ बजे से रात के ९ बज चुके थे पर मेरी बहन का बॉयफ्रेंड नहीं आया और वह बहुत उदास हो गई.

मैंने नेहा से आखरी बार पूछा और हम लोग मेरे फ्लेट के लिए निकले, क्योंकि देर हो चुकी थी, नेहा का मुड अभी ऑफ़ था इसलिए हमने ज्यादा बात नहीं की, फ्लेट पहुच कर मैंने मेरी बहन नेहा को चाबी दी और दरवाजा खोलने को कहा, जब उसने दरवाजा खोला..

तो वह एकदम शोक्ड हो गयी डोरमेट की जगह गुलाब से दिल बना था, जिस पर वाइट रोज से आई लव यू नेहा लिखा था, वहां से गुलाब की पंखुडियो का रास्ता बेड रूम तक जा रहा था और नीचे लविंग पिक्स पडे थे.

बेड रूम में बेड पर वाइट चादर और लाल गुलाब का ढेर था, भैया यह सब मेरे लिए किया था?

मैंने कहा हां तो, अब तू पहली बार आने वाली थी ना मेरिड होकर, तो एकदम से मेरी बहन ने मुझे हग कर लिया.

और बोली यू आर सो लविंग भैया, मैंने भी मेरी बहन के सर पर हाथ फेरा. आज पहली बार मेरी बहन मेरे गले लग्गी थी. फिर वो बैठी, मैंने खाने का आर्डर दे दिया था, तो वह आ चुका था, हम खाना खाकर बैठे तो मैंने मेरी बहन नेहा से कहा अब चेंज कर और सो जा, वरना मेरी नीयत खराब हो जाएगी.

नेहा ने रिप्लाई किया, तो कर लो ना, मैंने हल्का सा सुना, फिर मैं मेरी बहन के पास जाकर बैठा और कहा कुछ कहा क्या तूने? मेरी बहन नेहा ने जैसे ही बेड से थोड़ी रोज हटाई उस के हाथ कंडोम का पैकेट लग गया.

वह उसे बिना देखे ही समझ गई थी वह क्या है. मेरी बहन को एक्सपीरियंस जो था. नेहा ने वह पैकेट मेरे हाथ में रखते हुए कहा, यु आर सो लविंग भैया, में अब मेरी बहन का इशारा समझ गया था, हम बेड के साइड में बैठे थे और एक दूसरे को बड़े रोमांटिक नजर से देख रहे थे.

मेरी बहन नेहा शरमा रही थी. उसने अपना पर्स उठाया और धीरे से बोली मैं ऑफिस से ७ दिन की लिव पर हूं, हां सो तो है, अब क्या करेगी?  वैसे मैंने तो बहुत सारा अरेंजमेंट किया था यार तुम लोगों के लिए, और मैंने उठ कर अलमारी ओपन कि, उस में सात बॉक्स रखे थे.

डे वन, डे टू, अप्टू डे सेवन, मेरी बहन नेहा बहुत ही एक्साइटेड हो कर पूछने लगी, भैया इनमें क्या है? मैंने कहा वह तो तू तेरे हस्बैंड के साथ ओपन करती तो मजा आता.

मेरी बहन बोली यार भैया, आप तो सच में बहुत ही रोमांटिक हो, आई लाइक यू. मुझे तो आप जैसा ही पति चाहिए था. मेरी बहन की बातों ने मेरे अंदर आग लगा दी और मैंने बेडरूम की लाइट ऑफ कर के नाइट लेम्प ओन कर दिया, शायद हम दोनों एक दूसरे से बात नहीं कर पा रहे थे रोशनी में.

फिर मैंने कहा नेहा वैसे मुझे भी तुम जैसी  लड़की ही पसंद है जो बोल्ड हो, सब कुछ करने को रेडी हो, हॉट हो और सेक्सी भी, मेरी बहन भी बेड पर से उठी और मेरे सामने आकर खड़ी हुई.

और बोली वैसे मैं आपकी प्लानिंग खराब नहीं होने दूंगी और उस ने मेरे हाथ में एक डब्बी रखी और ओह्ह  मैं मेरी बहन का इशारा समझ गया, उस डब्बी में सिंदूर था. मैंने नेहा से कहा, क्या सच में तुम मेरी बीवी बनने को तैयार हो? उसने कहा हां भैया.

तो मेने नेहा का हाथ पकड़ा और उसे पूजा घर में ले कर गया, वहां मैंने एक चुटकी  सिंदूर लिया, वही हमारे मम्मी पापा की फोटो लगी थी, मैंने मेरी बहन की मांग भर दी और फिर भगवान को छूकर, मंगलसूत्र मेरी बहन के गले में बांधा और फिर दोनों ने साथ में मम्मी पापा की फोटो के पांव पड़े, जैसे ही हम टर्न हुए मेरी बहन मेरे पांव में झुकी.

और बोली आज से मैं आप की हुई भैया, मुझे अपनी पत्नी स्वीकार करो. मैंने नेहा को कंधे से पकड़कर उठाया और अपने सीने से लगा दिया. मेने नेहा को टाइट हग किया और फिर अपनी बहन के नरम नरम होठों को अपने होठों में लेकर उसे किस करने लगा. मे नेहा के और नेहा मेरे होंठों को चूस रही थी और करीब १० मिनट के बाद हमने लिप लॉक ऑफ़ किया.

नेहा बोली आई लव यू भैया आई लव यू सो मच आप मेरे सब कुछ हो, मैं बस आप की बस हु, हा मेरी प्यारी बहना नेहा तू बस मेरी है और मेरी बहन नेहा का हाथ पकड़कर उसे बेडरूम में ले गया, मैंने उसे बेड पर बैठाया और उसके पल्लू को हटा दिया.

में मेरी बहन के पास गया और उससे लिपट गया. हम दोनों बेड पर लेट गये और एक दूसरे से लिपटने लगे, मेरी बहन के हाथ से एक एक चूड़ी टूटती रही और मैं मेरी बहन के फेस पर उस के प्यारे चेहरे पर किस करता रहा.

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone