छोटी बहन अंजलि की चुदाई का मजा


Click to Download this video!
loading...

हेलो दोस्तों मेरा नाम आशीष है, और मैं बिहार से हूं. अभी मैं पुणे में रह कर अपनी पढ़ाई कर रहा हूं, मैं इस साइट का बहुत बड़ा फेन हूं तो मैंने सोचा कि क्यों ना मैं भी अपनी आपबीती शेयर करूं. यह मेरी पहली कहानी है जोकि मेरे साथ ६ महीने पहले घटी थी. कहानी मेरे और मेरे मामा की लड़की अंजलि के बीच हुई सेक्स की है. अंजलि बहुत ही खूबसूरत लड़की है. उसका फिगर ३४-३०-३६ का है. एकदम सेक्स बम लगती है. वह १८ साल की है और मैं उसे हमेशा से ही चोदना चाहता था, और कई बार मैंने उसके नाम की मुठ मारी है उसकी फोटो देखकर. यह बात तब की है जब मैं छुट्टियों में अपने मामा के घर गया था. सब मुझे देखकर बहुत खुश थे बारी बारी में सब से मिला और फिर अंजली से मिला. वह मुझे देखते ही खुशी से गले लग गई. उसके चूचे मेरे सीने से चिपक गए. क्या गजब का एहसास था? मेरा सात इंच का लंड  खड़ा होने लगा और अंजलि ने भी फील किया पर कुछ बोली नहीं, बस मुस्कुरा के टाल दिया, अब हम बातें करने लगे.

फिर मैं छत पर एक रूम में आराम करने जाने लगा तो अंजलि भी मेरे साथ आई. और हम इधर उधर की बातें करने लगे. पर मैं बार बार अंजलि के चुचे टॉप में कसे हुए लग रहे थे उन्हें बार बार देख रहा था. अंजलि ने यह नोटिस किया और पूछ लिया कि ऐसे क्या देख रहे हो भैया? तो मैंने बात करते हुए कहा कि कुछ नहीं तू बहुत सुंदर लग रही है. अगर तू मेरी बहन ना होती तो तुझे अपनी गर्लफ्रेंड बना लेता, और हम हंसने लगे. थोड़ी देर बाद में मामी भी खाना लेकर आई. हमने साथ में खाना खाया और फिर बातें करने लगे. मैं उसके चूचे देखकर मस्त हुआ जा रहा था. और नीचे लंड और पैंट में तंबू बना लिया. अंजलि यह देख कर थोड़ा शरमाई और हल्की सी मुस्कान के साथ मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछा. मैंने उसे सब बताया कि हम केसे मिले कैसे बात आगे बढ़ी और क्या क्या किया.. इस पर वो बोली कि भैया आपने सेक्स भी किया है? तो मैंने उसे हां कहां और मुझे बात आगे बढ़ रही लग रही थी. तो मैंने उसे बताया कि हमारी सेक्स की एक वीडियो भी है मेरे पास तो वो दिखाने के लिए बोलने लगी.

loading...

मेरा तीर सही निशाने पर लगा था, मैंने उसे कहा कि जा देख के आप मम्मी क्या कर रही है. तो वह नीचे चली गई और जल्दी से आ गई और बताया कि मम्मी अपने कमरे में सो रही है. मैंने इतनी देर में अपनी अंडर वियर निकाल के बस बरमुड़ा और सेंडो में आ गया था. मैने उठकर गेट लॉक किया और उसे बेड पर साथ में सुला के वह वीडियो दिखाने लगा. वीडियो देखते देखते वो गर्म होने लगी और मेरा लंड भी  खड़ा होके उसके मस्त गोल गोल गांड पर लगने लगा.. उसे फील हुआ वह थोड़ा हिली डूली पर पड़ी रही, तो मेरी हिम्मत और बढ़ गई. अब मैं उसे पूरा चिपक गया और लंड उसकी गांड में दबाने लगा. उसने पीछे मुड के एक मुस्कान दिया और फिर से वीडियो देखने लगी. अब मैं उसके चूचो को दबाना शुरू कर दिया तो आह्ह ऊऊ ईई अह्ह्ह अहह अय्य्य  कर रही थी. मैंने धीरे धीरे उसके टॉप  के अंदर हाथ डाल कर उसकी चूची दबाने लगा, तो वह बिना ब्रा की थी पूरी तरह गर्म हो गई और मों करने लगी, मुझे मजा आ रहा है. फिर मैंने उसे घुमाया और उसके गुलाबी होंठ चूसने लगा. वह बस पागलों की तरह मुझे लिपटे जा रही थी. मैंने भी मौका देख कर अपना और उसका टॉप उतार दिया और वो ऊपर से नंगी एकदम परी लग रही थी. में उसके चूचे देखते ही उस पर टूट पड़ा और काटने पीने लगा.

loading...

वो बोली कि आघह औउ ईई औऊ अमूऊ भैया आराम से करो, दर्द हो रहा है. फिर मैं उसके बदन को चाटते नीचे उसकी नाभी तक पहुंचा, और नाभि मैं जीभ डाल कर चाटने लगा, वो बेड पर कसमसाने लगी. अब मैंने उसकी पैंटी एक झटके में उतार दिया. वह मेरे सामने एकदम नंगी पडी थी, क्या गजब का हुस्न था उसका?? मैं देखते ही पागलों की तरह उसे चाटने लगा, और हाथ उपर करके उसके गोल चूची दबाये जा रहा था और वह मौन किए जा रही थी. आयी औऊ अह्ह्ह भैया में गयी  और उसकी चूत ने पानी की धार छोड़ दी, मैं पूरा चाट गया, मजेदार टेस्ट था उसकी चूत रस का.. मैंने अपना सात इंच का लंड निकाला और उसके हाथ में दिया जो पहले तो देखकर डर गई की इतना मोटा कैसे जाएगा? फिर मैंने समझाया कि आराम आराम से डालूंगा मजा आएगा, तो वह भी मान गई. मैंने उसे लंड चूसने को कहा तो उसने मना कर दिया. मैंने भी ज्यादा जोर देना सही नहीं समझा और उसके होंठ चूसने लगा. धीरे धीरे उसके पूरे बदन को चाटते हुए नीचे उसकी चूत पर आ के रुका. पूरी तरह गीली हो चुकी थी वह. जैसे ही मैंने अपना मुंह उसकी चूत पर लगाया वह सर पकड़कर दबाने लगी, जैसे अंदर घुसेड़ देगी. फिर मैं अपना लंड रगड़ने लगा और भी पागल हो गई भैया आः आयी औऊ डालो नाआआ.

मेने अब अपने लंड पर थूक लगाया और एक धक्का दिया और चूत टाइट थी तो लंड फिसल गया. फिर मैंने धीरे धीरे दो उंगली डाल के चूत को थोड़ा ढीला किया, और फिर से लंड को फसा के एक धक्का मारा. जैसे ही मेरे मोटे लंड का सुपाडा उसकी चूत में घुसा, वह दर्द से आऔउ अह्ह्ह अह्ह्ह भाई मर गई. मैं रुक गया और उसके चुचे दबाने लगा और उसके होंठ चूसने लगा. तो उसे थोड़ा आराम मिला पर मैंने सही मौका देख कर एक जोर का झटका मारा तो मारा लंड उसकी चूत को चीरता हुआ सीधा बच्चेदानी से जा टकराया. वो एकदम दर्द से तड़प गई, उसकी चीख मेरे मुंह में ही दब गई, आंखों से आंसू आ गए. और वह एकदम से छटपटाने लगी. और हाथ जोड़ने लगी कि भैया छोड़ दो बहुत दर्द हो रहा है. पर मैं लंड अंदर डाले कुछ देर रुका रहा और उसके होंठ चूसता रहा, और उसकी चूची सहला रहा था. धीरे धीरे उसका दर्द कम हुआ, तो मैंने उस को धक्के लगाना शुरु किया. वह मेरा साथ दे रही थी भैया मजा आ रहा है, और कुछ करो. मेने धक्के लगाना शुरू कीए. वह अपनी गांड हिलाके लंड पूरा अंदर ले रही थी, क्या मस्त पल था वह.. मेरे सपनों की रानी मेरी प्यारी अंजलि मेरे लौड़े के नीचे सहर कर रही थी..

लगभग १० मिनट की चुदाई के बाद में वो एकदम से अकड़ गई और मुझ से लिपट गई आःह औऊ अह्ह्ह अहह भैया में गयी और उसकी चूत ने पानी छोड़ना शुरू कर दिया, वह निढार होकर बेड पर पड़ गई, चूत गीला होने की वजह से लंड आसानी से अंदर बाहर होने लगा. मैंने उसे बैड के सहारे घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चूत में पूरा लंड एक झटके में डाल दिया. उसकी आह निकल गई. फिर मैंने उसे लगातार २० मिनट तक जम के चोदा और उसकी चूत में ही झड़ गया, काफी मजा आया. इस दौरान वो तीन बार झड़ चुकी थी. थोड़ी देर तक हम नंगे ही लेटे रहे. फिर वह अपने कपड़े पहन के नीचे चली गई. मैं उठा और फ्रेश होकर मार्केट से आई पील ले कर दिया उसको खाने को कहा… फिर तो में वहां जीतने दिन रहा उसे जब भी टाइम मिला हमने सेक्स किया.

अब तो बस वो दिन याद आते ही लंड खड़ा हो जाता है और किसी चूत की तलाश करता रहता हे.

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age


Online porn video at mobile phone